दांत के दर्द में उपयोगी जानकारी

Admin
0


दर्द कुछ भी हो, व्यक्ति परेशान हो जाता है और दांत (Teeth) दर्द होने पर उसे सहना बहुत मुश्किल होता है। दर्द से जल्दी राहत पाने के लिए आप इस उपाय की मदद ले सकते हैं।

हमारे दांत (Teeth) जितने साफ होंगे, हम उतने ही खूबसूरत होंगे, मुस्कुरा सकेंगे, लोगों से मिल सकेंगे, आसानी से बात कर पाएंगे क्योंकि पीले और दागदार दांत (Teeth) देखना किसी को पसंद नहीं है और जब हमारे पास ऐसे दांत (Teeth) होते हैं तो हम चाहकर भी अपना मुंह नहीं खोल सकते।

दांत के दर्द में उपयोगी जानकारी



साफ दांत (Teeth) एक अच्छे व्यक्तित्व की निशानी है। लेकिन बहुत से लोगों को दांतों के पीले होने की समस्या होती है। तंबाकू, बीड़ी, सिगरेट, शराब, सुपारी जैसी लत के कारण दांत (Teeth) पीले हो जाते हैं, वहीं कुछ लोगों को ज्यादा चॉकलेट खाने से भी यह समस्या हो जाती है। कई लोगों को इसकी लत न होने के बावजूद भी दांतों के पीले होने की समस्या होती है।

हार्ट अटैक की शुरुआत से 1 महीने पहले शरीर में ऐसे लक्षण दिखाई देते हैं - जाने यहाँ

तो आज हम आपके लिए कुछ घरेलू नुस्खे लेकर आए हैं जिससे आपके दांतों का पीलापन दूर हो जाएगा जिसका इस्तेमाल अगर आप ब्रश या फुरसत के समय करते हैं तो आपके दांत पीले पड़ जाएंगे और वो भी मोतियों की तरह चमकने लगेंगे।

दांत (Teeth) दर्द के घरेलू उपचार

- लौंग का तेल दांत दर्द का सबसे कारगर इलाज माना जाता है। लौंग के तेल में एक चुटकी काली मिर्च पाउडर मिलाकर दर्द वाले हिस्से पर लगाएं।
- दांत दर्द को कम करने के लिए सरसों का तेल एक और विकल्प है। सरसों के तेल में चुटकी भर नमक मिलाकर मसूढ़ों के दर्द वाले हिस्से पर मलना चाहिए।
- नींबू के रस के इस्तेमाल से भी दांत दर्द को कम किया जा सकता है।
- ताजे कटे प्याज के टुकड़े को मसूढ़ों या दांतों पर लगाने से भी दर्द से राहत मिलती है। आप स्थानीय जड़ी बूटियों जैसे ज़रगुल, हीराबोल आदि का उपयोग करके दांत दर्द के लिए घर का बना माउथवॉश बना सकते हैं। अन्य औषधीय पौधों में तुलसी, जंगली तुलसी और हींग शामिल हैं।
- सूखी बर्फ के टुकड़े को मुंह के बाहर की तरफ लगाने से भी दांत दर्द में आराम मिलता है।
- यदि आप अचानक दांत दर्द से पीड़ित हैं, तो आपको बहुत ठंडे, बहुत गर्म और दर्द वाले खाद्य पदार्थों से पूरी तरह से बचना चाहिए क्योंकि इससे दर्द करने वाले दांत को और नुकसान हो सकता है।
- खान-पान का ध्यान रखना चाहिए और भोजन में सब्जियों, फलों और अनाजों का अधिक प्रयोग करना चाहिए। जंक फूड के सेवन से बचना चाहिए।

सड़े हुए दांतों (Teeth) का घरेलू उपचार

- खनिज, विटामिन A और D और कैल्शियम आपके दांतों की संरचना में एक विशेष भूमिका निभाते हैं, इसलिए उनकी सुरक्षा के लिए उनकी आपूर्ति करना महत्वपूर्ण है। भोजन में उन जरूरतों को शामिल करें जो उन जरूरतों को पूरा कर सकें।
- और दूसरी सबसे जरूरी बात यह है कि आप चाय या कॉफी बिल्कुल भी ना पिएं।
- सबसे पहले आपको अपने दांतों को नायलॉन ब्रश से ब्रश करना बंद करना होगा, इसके बजाय टूथपेस्ट का उपयोग करें। मंजन को इस्तेमाल करने का सही तरीका यह है कि मंजन को बीच में बड़ी उंगली से रखकर 10 मिनट तक मसूढ़ों और दांतों पर अच्छी तरह से रखें और फिर मुंह से खराब पानी निकलेगा, 10 मिनट बाद दांतों को साफ पानी से धो लें।
- एक प्याले में 20 ग्राम बबूल का कोयला एक कपड़े से बेक करें, 10 ग्राम फिटकरी को हथेली पर रखकर भून लें, यह पाउडर बन जाएगा, 50 ग्राम हल्दी, इन सबको अच्छी तरह मिला लें।
- अब सुबह ब्रश करते समय इसे लें और इसमें 2 बूंद लौंग के तेल की अच्छी तरह मिला लें, इस मिश्रण से गड्ढा भर दें और बाकी मंजन को उंगली की सहायता से दांतों और मसूढ़ों पर अच्छी तरह लगा लें, और इसे कम से कम 10 मिनट के लिए छोड़ दें।
- पाइरेक्सिया में इससे मात्र 3 दिन में आराम मिलेगा। पत्थर से हिलते दांत भी मजबूत होंगे। और कैविटी के लिए इस मंजन को 1 से 2 महीने तक इस्तेमाल करें। और अगर दर्द आपके दांतों में है तो आपको पहले दिन में ही आराम मिलना शुरू हो जाएगा।
- सुबह उठते ही 10 ग्राम नारियल का तेल या तिल का तेल लेकर मुंह में भरकर 10 मिनट तक मुंह में घुमाते रहें। यानी इसे धोकर 10 मिनट बाद थूक दें, ध्यान रहे कि इसे न पिएं। सोते समय भी ऐसा ही करें। इस क्रिया को गंडुष्कर्मा भी कहते हैं। इस विधि से नौ डेंटल सर्जरी शुरू होंगी।
- इसके साथ ही आपको रोजाना 10 से 15 ग्राम आम भी खाना चाहिए और हरी सब्जियों का सेवन करना चाहिए। यदि आपको दिन में गाजर, पालक, खट्टे फल, चुकंदर, अनार, टमाटर मिलते हैं, तो आपको उन्हें खाने की जरूरत है।

खड़े होकर पानी पीने से हो सकता है यह नुकसान - जाने यहाँ

पीले दांतों (Teeth) को सफेद करने के आसान तरीके

नींबू और सिंधव नमक: नींबू के छिलके में सिंधव नमक मिलाकर दांतों पर मलने से दांत सफेद हो जाते हैं। दांतों का पीलापन दूर होता है क्योंकि नींबू में विटामिन सी होता है और नमक गंदगी को साफ करता है जिससे कुछ ही दिनों में फर्क दिखने लगेगा।
हल्दी: आधा चम्मच हल्दी में थोड़ा सा पानी मिलाकर उसका पेस्ट बना लें। अगर इसे ब्रश या उंगली से दांतों पर मलने से दांतों का पीलापन दूर हो जाता है। हल्दी का रंग पीला होता है लेकिन यह दांतों को सफेद बनाता है।
केला: केले दांतों को सफेद करने के लिए भी बहुत उपयोगी होते हैं क्योंकि केले में पोटेशियम, मैग्नीशियम और मैग्नीशियम की मात्रा अधिक होती है जो आपके दांतों को सफेद करने के साथ-साथ मजबूत भी करता है। आपको बस एक पके केले के छिलके को अंदर लेना है और इसे अपने दांतों पर दो या तीन मिनट तक रगड़ना है। कुछ ही दिनों में आपको फर्क दिखने लगेगा।
नारियल का तेल: नारियल तेल के कई फायदे हैं। इसका एक फायदा दांतों के लिए भी काफी फायदेमंद होता है। नारियल में मौजूद लॉरिक एसिड दांतों पर जमा हुए क्षार को दूर करने में मदद करता है। अगर एक चम्मच नारियल का तेल कुल्ला और कुल्ला करने के बाद 1-2 मिनट तक मुंह में रखा जाए, तो दांत जल्द ही सफेद हो जाएंगे।
स्ट्रॉबेरी: स्ट्रॉबेरी में मौजूद विटामिन-सी दांतों पर जमी हुई एल्कलाइन को दूर करने में मदद करता है। ये क्षार दांतों को पीला करने में अहम भूमिका निभाते हैं। स्ट्रॉबेरी में मैलिक एसिड होता है जो दांतों पर लगे दाग-धब्बों को दूर करने में मदद करता है और दांतों को सफेद और चमकदार बनाता है। इसके लिए आपको पके स्ट्रॉबेरी का पेस्ट बनाना है और इसे कुछ दिनों तक अपने दांतों पर मलना है।
बेकिंग सोडा और नमक: एक चम्मच बेकिंग सोडा लें जिसे हम "नमकीन" भी कहते हैं, इसमें थोड़ा सा नमक मिलाएं, पानी मिलाएं और पेस्ट को दांतों पर लगाने से दांतों का पीलापन दूर हो जाता है। इस पेस्ट को दांतों पर 1 से 2 मिनट तक लगाने से दांतों का पीलापन और दाग-धब्बे दूर हो जाते हैं।
चारकोल: अभी बाजार में चारकोल टूथपेस्ट हैं जो दांतों को चमकाने का काम करते हैं, लेकिन अगर आप घर पर भी अपने दांतों पर चारकोल लगाते हैं, तो कुछ ही समय में आपके दांत मोतियों की तरह चमकने लगेंगे। चारकोल को हल्का पीस लें और अपनी उंगली से 1 या 2 मिनट तक हल्की मसाज करें। यह दैनिक उपाय आपके दांतों को स्वच्छ और साफ रख सकता है।

मुँह की दुर्गंध के घरेलू उपाय

इलायची: खाना खाने के बाद आप एक इलायची कुट्टू खा सकते हैं और इसे लंबे समय तक पकड़कर 20 मिनट तक सांस को बाहर निकाल सकते हैं।
धनिया पत्ता: खाने के बाद दुर्गंध को दूर करने के लिए आप ताजी हरी धनिया की पत्तियों को चबा सकते हैं।
लौंग: इसका उपयोग भोजन में स्वाद बढ़ाने के लिए किया जाता है जिसका उपयोग हम सर्दी और बुखार को दूर करने के लिए भी करते हैं। इससे आपको सांसों की दुर्गंध से भी छुटकारा मिलेगा और अगर आपके गले में खराश है तो यह दूर हो जाएगी।
पुदीने की पत्तियां: ये पत्तियां एक प्राकृतिक माउथ फ्रेशनर हैं जो सांसों की दुर्गंध को ठीक कर सकती हैं।
सौंफ: इसकी सुगंध बहुत तेज होती है। फिर भी, थोड़ा सा भी खाएंगे तो फायदा होगा। साथ ही, यह लंबे समय तक काम करने में सक्षम है।
अंगूर: आपने अंगूर के सेहत को होने वाले जबरदस्त फायदों के बारे में तो सुना ही होगा, लेकिन क्या आप जानते हैं कि इन्हें खाने से सांसों की दुर्गंध नहीं आती है? इसलिए अब से आप जब भी कोई फल खरीदने जाएं तो अंगूर लेना न भूलें।
अमरूद: यह फल और इसके बीज मुंह की समस्याओं को दूर करने में काफी कारगर होते हैं। इसके साथ ही अमरूद की पत्तियों में भी इतनी शक्ति होती है कि यह आपके पेट को भी स्वस्थ रखता है और सांसों की दुर्गंध को दूर करता है।

Health Tips : क्या आप phone को Toilet  में ले जाते हैं? हो सकती है ये बीमारी 



Note :

किसी भी हेल्थ टिप्स को अपनाने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले. क्योकि आपके शरीर के अनुसार क्या उचित है या कितना उचित है वो आपके डॉक्टर के अलावा कोई बेहतर नहीं जानता


Tags

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)