आम की गुठली को फेंक देते हैं ? इन रोगों का रामबाण इलाज

Admin
0


कोलेस्ट्रॉल से लेकर ब्लड शुगर तक हर चीज को नियंत्रित करने में गाजर बहुत फायदेमंद होती है। अगर आप भी आम खाने के बाद इन हिम्मतों को फेंक देते हैं तो ऐसा करने की गलती बिल्कुल न करें।

आम की गुठली को फेंक देते हैं ? इन रोगों का रामबाण इलाज


जो लोग कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने के लिए तमाम तरह के उपाय कर रहे हैं उनके लिए मैंगो ड्रॉप्स काफी फायदेमंद हो सकता है। अगर आप आम खाने के बाद फेंक देते हैं तो ऐसा बिल्कुल न करें। क्योंकि यह आपके लिए बहुत फायदेमंद होता है। कैरी गोटला के सेवन से आप शरीर में कोलेस्ट्रॉल को कम कर सकते हैं। इसके अलावा इसके कई बड़े फायदे हैं। आइए जानते हैं कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने के अलावा लौकी के और क्या फायदे हैं।

इस चीज की एक चुटकी वृद्ध व्यक्ति को 20 साल का युवान कर देगी : Click here

पेट के लिए फायदेमंद

आम आपकी सेहत के लिए ही नहीं बल्कि आपके लिए भी अच्छा होता है। अगर आप आम का सेवन करते हैं तो यह आपके कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने में भी मदद करेगा। इसके अलावा कैरी का गोटला पेट संबंधी समस्याओं को दूर करने में भी काफी फायदेमंद होता है।

ब्लड शुगर होगा नियंत्रित

साथ ही डायबिटीज के मरीजों को कैरी गोटला का सेवन करना चाहिए। इसके सेवन से आपका ब्लड शुगर लेवल भी कंट्रोल में रहेगा। यानी कैरी का गोटला डायबिटीज के मरीजों के लिए काफी फायदेमंद होता है।

ये लाभ कैरी गोटल से आते हैं

कैरी गोटला का सेवन आप पीरियड्स के दर्द को कम करने के लिए भी कर सकती हैं। इससे महिलाओं का दर्द कम होगा।

कैरी का गोटला दिल को फिट रखने में भी काफी फायदेमंद होता है। यानी हृदय रोगियों को वही खाना चाहिए जो उन्हें चाहिए। दरअसल जब आप अपने कोलेस्ट्रॉल लेवल को कंट्रोल करते हैं तो हार्ट अटैक का खतरा कम हो जाता है।

यह दांतों के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है। इसमें कैल्शियम की मात्रा अधिक होती है।

इन 5 आदतों से आज ही छुटकारा पाएं, नहीं तो आप जल्दी बूढ़े हो जाएंगे

अगर आप बार-बार दस्त से परेशान हैं तो आम का रस और चीनी बराबर मात्रा में लेकर 2 चम्मच दिन में 3 बार लेने से दस्त ठीक हो जाता है। मोटापा हर किसी के लिए एक समस्या है, लेकिन मोटापा कम करने के लिए आम की बोतल का इस्तेमाल करना भी फायदेमंद होता है। तो कुछ परिवार और मुखौटा विक्रेता सूखे आम का उपयोग स्वादिष्ट माउथवॉश बनाने के लिए करते हैं, इस प्रकार आमों के साथ-साथ अंदर से निकलने वाले लोगों को भी उतना ही लाभ मिलता है।

आम की गुठली पेट के रोगों के लिए भी लाभकारी है। गुठली, बील गिरी, मिश्री एक समान मात्रा में पीसकर दो चम्मच फांकने से पेट की बीमारियां ठीक हो जाती हैं। साथ ही दस्त और बवासीर के लिए भी फायदेमंद है।   आम की गुठली का पाउडर छाछ में मिलाकर पीने से बवासीर के मरीजों को आने वाला खून बंद हो जाता है।



Note :

किसी भी हेल्थ टिप्स को अपनाने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले. क्योकि आपके शरीर के अनुसार क्या उचित है या कितना उचित है वो आपके डॉक्टर के अलावा कोई बेहतर नहीं जानता


Tags

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)