अहमदाबाद-मुंबई हाई स्पीड बुलेट ड्रोन वीडियो

Admin
0


जमीन से 33 फीट ऊपर दौड़ती बुलेट ट्रेन में चढ़ने से पहले 350 किमी प्रति घंटे की तेज रफ्तार, वलसाड से साबरमती तक का सफर दो मिनट में महसूस करें।

अहमदाबाद-मुंबई हाई स्पीड बुलेट ड्रोन वीडियो


  • सभी नदियों पर पुल बनाने का काम शुरू हो गया है
  • नर्मदा, तापी, माही नदी पर स्तम्भ एवं आधारभूत कार्य पूर्ण

अहमदाबाद-मुंबई हाई स्पीड बुलेट ट्रेन परियोजना पर काम चल रहा है। 2026 तक सूरत और बिलिमोरा के बीच बुलेट ट्रेन 350 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ेगी। मार्ग पर संचालन के वास्तविक समय के ड्रोन दृश्य प्रस्तुत किए जाते हैं। पूरे रूट के लाइव ऑपरेशन का यह ड्रोन वीडियो आपको सिर्फ 2 मिनट में 352 किमी की दूरी तय करेगा।

बुर्ज खलीफा की अद्भुत इंजीनियरिंग का वीडियो देखे : Click here

वीडियो में देखें बुलेट रूट के एक-एक खंबे

बुलेट ट्रेन के चल रहे संचालन के एक अविस्मरणीय ड्रोन दृश्य में, दिव्यभास्कर अपने पाठकों को वलसाड से साबरमती तक एक ही स्तंभ दिखाते हैं। इसके अलावा इसमें नवसारी, सूरत, भरूच, वडोदरा के कास्टिंग यार्ड भी दिखाए गए हैं। इस वीडियो से आप अंदाजा लगा सकते हैं कि हाई स्पीड बुलेट ट्रेन में सवार होने के बाद आप कैसा महसूस करेंगे।

सूरत-अहमदाबाद स्टेशन को देख आंखे छलक उठेंगी

बुलेट ट्रेन में अहमदाबाद और मुंबई के बीच 12 स्टेशन होंगे, लेकिन साबरमती और सूरत स्टेशनों को काफी हद तक पूरा कर लिया गया है। बस इन दोनों स्टेशनों के ड्रोन नजारे देखकर आपकी आंखें भर आ जाएंगी और आपको एहसास होगा कि यह स्टेशन बनने के बाद कितना शानदार दिखेगा। गुजरात में 502 किलोमीटर की बुलेट ट्रेन परियोजना के लिए 99% भूमि अधिग्रहण किया जा चुका है और काम जोरों पर है।

गुजरात में आठ बुलेट ट्रेन स्टेशन होंगे

बुलेट ट्रेन गुजरात में 352 किलोमीटर के रूट पर चलेगी, जिसमें वापी, बिलिमोरा, भरूच, सूरत, वडोदरा, आनंद-नडियाद, अहमदाबाद और साबरमती एम8 स्टेशन शामिल होंगे। गुजरात के साबरमती और सूरत में बुलेट ट्रेन के डिब्बों के डिपो बनाए जाएंगे। NHSRCL के अनुसार देश का पहला बुलेट ट्रेन स्टेशन सूरत में बनकर तैयार होगा और 2023 तक इसका उद्घाटन होगा। 2027 से सूरत और बिलिमोरा स्टेशनों के बीच बुलेट ट्रेन चलाने की योजना है।

नर्मदा-तापी-माही-साबरमती नदी पर सबसे बड़ा कार्य

बुलेट ट्रेन गुजरात में नर्मदा, तापी, माही और साबरमती नदियों से होकर गुजरना है. इन सभी नदियों पर पुल बनाने का काम शुरू हो गया है। नर्मदा, तापी, माही नदियों के स्तम्भ और बुनियादी कार्य पूरे हो चुके हैं। साबरमती नदी पर जमीन का काम चल रहा है। बुलेट ट्रेन का पैसेंजर टर्मिनल हब साबरमती टोरेंट पावर के पास बनाया जा रहा है, जिसका संचालन लगभग पूरा हो चुका है.




Note :

किसी भी हेल्थ टिप्स को अपनाने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले. क्योकि आपके शरीर के अनुसार क्या उचित है या कितना उचित है वो आपके डॉक्टर के अलावा कोई बेहतर नहीं जानता


Tags

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)