तकिये के सहारे सोने के हैं कई नुकसान

Admin
0


दिन भर के काम और थकान के बाद हर कोई रात को अच्छी नींद चाहता है। आमतौर पर इंसान जब भी सोने जाता है तो सिर के नीचे तकिया (Pillow) रख लेता है। बहुत से लोग ऐसे होते हैं जिन्हें बिना तकिये (Pillow) के नींद नहीं आती। अगर कोई मोटा तकिया (Pillow) रखकर सोना पसंद करता है, तो कोई पतला तकिया (Pillow) रखकर सोना पसंद करता है। कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो सिर के नीचे तीन से चार तकिए (Pillow) रखकर सोते हैं।

तकिये के सहारे सोने के हैं कई नुकसान



अगर आपको ज्यादा तकिए (Pillow) के सहारे सोने की आदत है तो आपको सावधान हो जाना चाहिए। आपकी ये आदत आपका काफी नुकसान कर सकती है। बहुत कम लोग जानते हैं कि तकिये (Pillow) पर सोने से कई नुकसान होते हैं। यह तकिया (Pillow) आपके शरीर में कई बीमारियों को आमंत्रण देता है। इसलिए जहां तक ​​हो सके तकिया (Pillow) रखने की आदत से बचना चाहिए।

किडनी खराब होने से पहले शरीर देता है ऐसे संकेत - जाने यहाँ

अगर आप सिर के नीचे तकिया (Pillow) रखकर सोते हैं तो सावधान हो जाएं। यह आदत आपके लिए हानिकारक हो सकती है। तकिये (Pillow) के सहारे सोने से कई तरह की बीमारियां हो सकती हैं। तो चलिए आज हम आपको तकिए (Pillow) के सहारे सोने से होने वाले नुकसान के बारे में बताएंगे।

रीढ़ की हड्डी में टेढ़ापन का डर

तकिए (Pillow) के लगातार इस्तेमाल के बाद आपकी रीढ़ की हड्डी धीरे-धीरे कमजोर होने लगती है। यदि आप इसका उपयोग करना बंद कर देते हैं, तो आप अपनी रीढ़ की हड्डी को होने वाले नुकसान से बच सकते हैं। इससे कमर दर्द भी दूर होगा।

गर्दन दर्द

जो लोग रोज रात को तकिये (Pillow) के सहारे सोते हैं उनके गले में दर्द हो सकता है। यह समस्या बहुत आम है। इससे बचने के लिए रात को सिर के नीचे तकिये (Pillow) को ना रखें। तकिए (Pillow) बंद करने से आपके शरीर में ब्लड सर्कुलेशन भी बेहतर होगा।

बुढ़ापा जल्दी आता है

आपको जानकर हैरानी होगी कि रात को तकिये (Pillow) के सहारे सोने से आप कम उम्र में बड़े दिखने लगते हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि जब आप तकिए (Pillow) के सहारे सोते हैं तो चेहरे पर झुर्रियां तेजी से दिखाई देती हैं। इसलिए अगर आप लंबे समय तक खूबसूरत रहना चाहते हैं तो आपको रात को तकिये (Pillow) के सहारे सोना बंद कर देना चाहिए।

क्या तीखा खाना खाने के बाद पसीना आता है? हो सकती है यह बीमारी

बच्चों में संपीड़न या श्वासनली का जोखिम

बहुत से लोग अपने बच्चों के सिर के नीचे तकिया (Pillow) भी रखते हैं। बता दें कि आपको ऐसी गलती कभी नहीं करनी चाहिए। यह बच्चों का दम घोंट सकता है। जरूरी नहीं कि हर बार ऐसा ही हो, लेकिन यह खतरनाक हो सकता है। इसलिए अगर आप इस जोखिम से बचना चाहते हैं तो छोटे बच्चों के लिए तकिए (Pillow) का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।


Note :

किसी भी हेल्थ टिप्स को अपनाने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले. क्योकि आपके शरीर के अनुसार क्या उचित है या कितना उचित है वो आपके डॉक्टर के अलावा कोई बेहतर नहीं जानता


Tags

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)