अगर आपको नींद में खर्राटे आ रहे हैं, तो है जानलेवा बीमारी

Admin
0


दिग्गज भारतीय गायक-संगीतकार बप्पी लाहिरी ने 69 साल की उम्र में दुनिया को अलविदा कह दिया है। 'डिस्को किंग' के नाम से मशहूर क्रिएटर के अचानक चले जाने से उनके फैंस समेत म्यूजिक इंडस्ट्री को झटका लगा है। बप्पी लाहिरी की Sleep Apnea (स्लीप एपनिया) से मौत हो गई है। अगर कई लोगों ने यह शब्द सुना है तो कई लोगों के लिए यह शब्द नया होगा। इस स्थिति में व्यक्ति का नींद के दौरान दम घुटने लगता है और उसके फेफड़ों को पर्याप्त ऑक्सीजन नहीं मिल पाती है। चौंकाने वाला तथ्य यह है कि हालांकि Sleep Apnea एक बहुत ही सामान्य बीमारी है, ज्यादातर लोग इससे अनजान हैं और कभी-कभी घातक भी हो जाते हैं। Sleep Apnea क्यों होता है? जानिए इस Sleep Disorder के लक्षण और इसके इलाज के बारे में।

अगर आपको नींद में खर्राटे आ रहे हैं, तो है जानलेवा बीमारी



नींद में खर्राटे लेने से आपके आसपास के लोगों का परेशान होना आम बात है, लेकिन खर्राटे लेने वाले के लिए यह खतरनाक भी हो सकता है। एक शोध में मिला।

हार्ट अटैक की शुरुआत से 1 महीने पहले शरीर में ऐसे लक्षण दिखाई देते हैं - जाने यहाँ

Sleep Apnea का पूरा नाम 'ऑब्सट्रक्टिव स्लीप एपनिया' (OSA) है। सोते समय श्वासनली में रुकावट आने पर अचानक सांस लेने में तकलीफ होना। इस स्थिति को Sleep Apnea कहा जाता है। महिलाओं की तुलना में पुरुषों में विकार अधिक आम है। यह स्थिति बहुत आम है, लेकिन अगर समस्या गंभीर है, तो इससे दिल का दौरा और ब्रेन स्ट्रोक हो सकता है।

Sleep Apnea के मुख्य कारण

- इस नींद विकार का मुख्य कारण मोटापा है। बहुत से लोगों के गले में अतिरिक्त चर्बी होती है। इस वसा की मात्रा बढ़ने से श्वसन मार्ग में रुकावट आती है।
- गर्दन की मांसपेशियां भी उम्र के साथ बदलती हैं। नींद के दौरान हमारी गर्दन की मांसपेशियां करीब आती हैं।
- जबकि कई लोगों में मांसपेशियों की वृद्धि होती है, कई लोगों की मांसपेशियां लचीली होती हैं।
- नींद के दौरान हमारी गर्दन की स्थिति भी बदल जाती है। इस दौरान मोटापे और मांसपेशियों के कारण व्यक्ति की सांस फूलने लगती है और घबराहट होने लगती है।

Sleep Apnea के लक्षण क्या हैं?

- अगर किसी व्यक्ति के खर्राटे की आवाज तेज आती है तो इसका मतलब है कि श्वासनली में रुकावट है। खर्राटे आना Sleep Apnea का एक लक्षण है।
- कुछ लोग रात के बीच में बहुत पसीना बहाते हुए जागते हैं। अगर आपके साथ भी ऐसा होता है तो इसे नजरअंदाज न करें।
- विकार वृद्ध लोगों में अधिक आम है, लेकिन बच्चों में अधिक आम है।
- अगर बच्चे को मोटापा है और रात में खर्राटे आ रहे हैं तो इस बात का विशेष ध्यान रखना चाहिए।
- रात को न सोएं और न ही दिन में अपना सिर भारी रखें।
- रात को सोने के बावजूद दिन में बार-बार सोना।

Sleep Apnea से डरने की जरूरत है?

- यह एक सामान्य नींद विकार है, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि लक्षणों को हल्के में लिया जाना चाहिए।
- उपरोक्त लक्षणों में से कोई भी प्रकट होने पर एक पल्मोनोलॉजिस्ट से परामर्श लेना चाहिए।
- डॉक्टर सबसे पहले वजन घटाने की सलाह देते हैं।
- यह वायुमार्ग की रुकावटों को दूर करने के लिए कुछ लय में श्वास प्रशिक्षण भी प्रदान करता है।
- यदि समस्या गंभीर है, तो आपको एक न्यूरोलॉजिस्ट या मनोचिकित्सक को दिखाना चाहिए।

ऑब्सट्रक्टिव Sleep Apnea में एक मशीन का उपयोग किया जाता है। इसे कंटीन्यूअस पॉजिटिव एयरवे प्रेशर (CPAP) कहते हैं। इस थेरेपी में मरीज को मास्क या ट्यूब से ऑक्सीजन युक्त हवा दी जाती है। सोते समय रोगी को स्थिर वायुदाब होता है। इससे सांस फूलने जैसी कोई समस्या नहीं होती है।

इस 10 लक्षण हैं पुरुषों में कैंसर की शुरुआत के संकेत, रहें सावधान

घरेलू उपचार

शहद- रात को सोने से पहले 1 चम्मच शहद का सेवन करें। ऐसा करने से खर्राटों की समस्या से निजात मिल जाएगी।
योग- योगासन करने से श्वास नली स्वस्थ रहती है और फेफड़ों को पर्याप्त ऑक्सीजन मिलती है जिससे नासिका छिद्र साफ हो जाते हैं।
मोटापा- खर्राटे आने का एक कारण वजन बढ़ना भी होता है। इसलिए अपने वजन पर नियंत्रण रखें।
बायीं करवट सोएं- ऐसा कहा जाता है कि बायीं करवट सोने पर खर्राटे कम आते हैं।
गुनगुना पानी- रात को सोने से पहले गुनगुना पानी पिएं। क्योंकि गर्म पानी पीने से गला खुल जाता है।
नाक साफ रखें- खर्राटे भी एक समस्या है क्योंकि नाक साफ नहीं है और सूजी हुई है। ऐसे में समय-समय पर नाक की सफाई करते रहें।
धूम्रपान- अगर धूम्रपान करने वालों को खर्राटे की समस्या अधिक है तो अपने अच्छे स्वास्थ्य और खर्राटों से छुटकारा पाने के लिए धूम्रपान छोड़ दें।


Note :

किसी भी हेल्थ टिप्स को अपनाने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले. क्योकि आपके शरीर के अनुसार क्या उचित है या कितना उचित है वो आपके डॉक्टर के अलावा कोई बेहतर नहीं जानता


Tags

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)