वजन बढ़ाने और घटाने के लिए क्या करें? PDF

Admin
0
Obesity (मोटापा) आजकल एक गंभीर बीमारी है, जो व्यक्ति को मानसिक के साथ-साथ शारीरिक रूप से भी काफी परेशानियां देती है।

वजन बढ़ाने और घटाने के लिए क्या करें? PDF



Obesity मोटापे का संकेत है, एक ऐसी बीमारी जो किसी को भी प्रभावित करती है, चाहे वह अमीर हो या गरीब, अगर वे अधिक वजन वाले हैं। यह सवाल देश ही नहीं विदेशों में भी चुनौतीपूर्ण होता जा रहा है। Obesity कभी-कभी किसी व्यक्ति के लिए खतरनाक हो सकता है, जिससे कई शारीरिक बीमारियां हो सकती हैं, और कभी-कभी मृत्यु भी हो सकती है।

इस 1 गिलास जादुई ड्रिंक का सेवन करें ! चर्बी बर्फ की तरह पिघल जाएगी

Obesity का निर्धारण कैसे करें: चिकित्सा शब्दावली के अनुसार, रोगी के बॉडी मास इंडेक्स (BMI) की जांच करके डॉक्टर द्वारा शरीर के वजन की गणना की जाती है। औसत व्यक्ति का BMI 15 से 6.5 किलोग्राम होता है, जबकि Obesity से ग्रस्त व्यक्ति का BMI 30 से 4.5, 6-7.5 या इससे अधिक होता है।

Obesity, स्वास्थ्य के लिए खतरा: Obesity कभी-कभी किसी व्यक्ति के लिए खतरनाक हो सकता है, जिससे कुछ शारीरिक बीमारियां हो सकती हैं, और कभी-कभी मृत्यु भी हो सकती है। Obesity कुछ बीमारियों को भी जन्म दे सकता है, जैसे टाइप-टू डायबिटीज, ब्लड प्रेशर, स्लीप एपनिया, लिवर में फैट, इनफर्टिलिटी, कैंसर, जोड़ों-कमर-घुटने का दर्द, पैरों की सूजन और वैरिकाज़ वेन्स, हार्टबर्न और साथ ही डिप्रेशन।

बैरिएट्रिक (Weight Loss) सर्जरी को समझना: बेरियाट्रिक सर्जरी का सबसे बड़ा फायदा यह है कि यह Weight Loss (वजन घटाने) का सटीक और काफी हद तक स्थायी इलाज है। सर्जरी के बाद Weight Loss होने से बीपी, कोलेस्ट्रॉल, सांस की समस्या और मधुमेह जैसी बीमारियों से राहत मिलती है। पीठ या जोड़ों का दर्द भी दूर हो जाता है और व्यक्ति तरोताजा हो जाता है। यह सर्जरी कॉस्मेटिक सर्जरी नहीं है, बल्कि पेट और आंतों को संशोधित करके लैप्रोस्कोपी द्वारा की जाती है। जो बदलाव के बाद शरीर के वजन को बदल देता है। बहुत से लोग मानते हैं कि अधिक वजन होने का निदान पौष्टिक आहार और व्यायाम से किया जा सकता है, लेकिन यह धारणा गलत है, क्योंकि अंतरराष्ट्रीय मानकों के अनुसार, जब BMI 7 से अधिक हो या BMI 9 से अधिक हो और बीपी, कोलेस्ट्रॉल, बैरिएट्रिक सर्जरी एक अगर आपको सांस की समस्या है या मधुमेह जैसी समस्या है तो भेस में आशीर्वाद। नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ सर्वसम्मति सम्मेलन ने निष्कर्ष निकाला कि Weight Loss और दीर्घायु के लिए सर्जरी ही एकमात्र प्रभावी उपचार है।

इस सर्जरी के बाद आपको सिर्फ 3 से 4 दिन अस्पताल में रहना है। ऑपरेशन के बाद 6 से 7 दिनों में व्यक्ति अपना दैनिक कार्य कर सकता है। ऑपरेशन के बाद गैस्ट्रिक प्रशिक्षण पूरा होने तक आहार में सावधानी बरतनी चाहिए। इस ऑपरेशन के बाद वजन 5% से घटाकर 20% कर दिया जाता है और मधुमेह, रक्तचाप, जोड़ों का दर्द, कोलेस्ट्रॉल और बांझपन में भी सुधार होता है।

Obesity की जानकारी PDF फाइल: Click Here

बेरियाट्रिक सर्जरी का सबसे बड़ा फायदा यह है कि यह Weight Loss का सटीक और काफी हद तक स्थायी इलाज है।

बिना कोई काम किए थकान महसूस करते हैं, तो जानिए इसके कारण और उपाय

Weight Loss के बाद बीपी, कोलेस्ट्रॉल, सांस की समस्या और मधुमेह दूर होगा। पीठ या जोड़ों का दर्द भी दूर हो जाता है और व्यक्ति ऊर्जावान बनता है।

Note :

किसी भी हेल्थ टिप्स को अपनाने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले. क्योकि आपके शरीर के अनुसार क्या उचित है या कितना उचित है वो आपके डॉक्टर के अलावा कोई बेहतर नहीं जानता


Tags

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)