क्यों करेंसी नोट के किनारे पर क्रॉस लाइन खींची जाती है? जाने

Admin
0
दुनिया के हर देश में Currency (मुद्रा) का इस्तेमाल सामान खरीदने और बेचने के लिए किया जाता है। कहीं Dollar (डॉलर), कहीं Euro (यूरो) और कहीं Rupees (रुपये) का इस्तेमाल होता है। भारत में Rupees Currency (रुपया मुद्रा) के रूप में प्रयोग किया जाता है। आप और मैं लगभग हर दिन Currency (मुद्रा) का उपयोग करते हैं। लेकिन क्या आपने कभी इन नोटों को गौर से देखा है?

क्यों करेंसी नोट के किनारे पर क्रॉस लाइन खींची जाती है? जाने



नोटों को गौर से देखें तो इन नोटों के किनारे क्रॉस लाइनें खींची होती हैं। लेकिन हम Currency (मुद्रा) के मूल्य के बदले में सामान खरीदते हैं। क्या आपने कभी यह जानने की कोशिश की है कि Currency (मुद्रा) में इन क्रॉस लाइनों का क्या अर्थ है? तो आज हम आपको इसके बारे में पूरी जानकारी बताएंगे।

गुजरात का यह शहर है दुनिया का पहला शाकाहारी शहर, एक बार जरूर जाएं

why drawn cross line in currency

भारत में कई मूल्यवर्ग के नोट छापे जाते हैं। इसकी पांच से दो हजार की Currency (मुद्रा) है। हम बस इसका इस्तेमाल करते हैं लेकिन इसके बारे में ज्यादा नहीं जानते। अगर आपने कभी Indian Rupees (भारतीय नोटों) को गौर से देखा है, तो आप देखेंगे कि इसके किनारों पर कई रेखाएं खींची गई हैं। यह नोट की कीमत के हिसाब से बढ़ता और घटता है। शायद ही किसी ने उन पर ध्यान दिया हो और वे शायद ही जानते हों कि उनका क्या मतलब है। आज हम आपको इस लाइन का मतलब बताने जा रहे हैं।

why drawn cross line in currency

नोट के किनारे पर छपी इन क्रॉस लाइन को असल में ब्लीड मार्क्स कहा जाता है। यह नोटों के मूल्य के अनुसार घटता-बढ़ता रहता है। दरअसल, इन क्रॉस लाइन को विशेष रूप से दृष्टिबाधित लोगों के लिए बनाया गया है। इसकी मदद से जो नहीं देख सकते वो नोटों की कीमत समझ सकते हैं। ताकि कोई उन्हें बेवकूफ न बना सके। Indian Currency (भारतीय मुद्रा) में ये रेखाएं 100 से 2 हजार Currency (मुद्राओं) पर मौजूद हैं। अंधे लोग किसी नोट पर उंगली उठाकर उसकी कीमत का पता लगाते हैं।

why drawn cross line in currency

वाहन-मोबाइल चोरी के मामले में अब ऑनलाइन e-FIR की जा सकेगी

Indian Currency (भारतीय मुद्रा) के निर्माताओं ने नेत्रहीनों की सुविधा के लिए इन क्रॉस लाइन को बनाया है। प्रत्येक नोट में उसके मूल्य के अनुसार क्रॉस लाइन होती हैं। उदाहरण के लिए, यदि आप एक 100 की नोट उठाते हैं, तो आप देखेंगे कि उसके दोनों ओर चार क्रॉस लाइन हैं। 200 के नोट में भी चार लाइनें होती हैं लेकिन दो जीरो जुड़े होते हैं। इसके अलावा पांच सौ की नोटों पर दोनों साइड पांच और दो हजार के नोट पर सात लाइनें हैं। ये सभी क्रॉस लाइन लंबवत हैं। ताकि अंधे उन्हें महसूस कर सकें और नोट की कीमत समझ सकें।

Note :

किसी भी हेल्थ टिप्स को अपनाने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले. क्योकि आपके शरीर के अनुसार क्या उचित है या कितना उचित है वो आपके डॉक्टर के अलावा कोई बेहतर नहीं जानता


Tags

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)