क्या आप रात को बिना लाइट बंद किए सो जाते हैं? हो सकता है यह नुकसान

Admin
0


रात (Night) को लाइट बंद (Light Off) करके सोना (Sleep) बहुत जरूरी है। माता-पिता बचपन से ही अपने बच्चों को इस आदत में डालने की कोशिश करते हैं, लेकिन कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो लाइट बंद करके नहीं सोते हैं या फिर डर के मारे रात भर लाइट जलाकर सो जाते हैं। लाइट ऑन करके सोना सेहत के लिए बहुत हानिकारक हो सकता है।

sleeping at night with the lights off

अमेरिका के इलिनोइस राज्य में नॉर्थवेस्टर्न यूनिवर्सिटी स्कूल ऑफ मेडिसिन के वैज्ञानिकों ने इस संबंध में एक चौंकाने वाला खुलासा किया है।

यह 10 लक्षण हैं पुरुषों में कैंसर की शुरुआत के संकेत, रहें सावधान

हृदय रोग (Heart Disease) और मधुमेह (Diabetes) के लिए आमंत्रण

अध्ययन में पाया गया कि रात को सोते समय लाइट जलाकर रखने से हृदय रोग और मधुमेह का खतरा बढ़ जाता है। रोशनी के साथ सोने से हृदय गति दिन के स्तर तक बढ़ जाती है। शरीर में इंसुलिन के साथ भी ऐसा ही होता है। यह शरीर को काफी नुकसान पहुंचा सकता है।

अध्ययन 20 लोगों पर किया गया था

अध्ययन में 20 लोगों को शामिल किया गया था। लगभग 10 लोगों को 100 लक्स (प्रकाश की तीव्रता) यानी मध्यम प्रकाश में रखा गया था। 10 लोगों को 3 लक्स (मंद प्रकाश) तीव्रता वाली रोशनी में रखा गया था। कुछ दिन बाद जब उनसे पूछताछ की गई तो दोनों टीमों के बीच काफी बड़ा फासला हो गया।

स्टडी में चौंकाने वाला खुलासा

अध्ययन में पाया गया कि जो लोग 100 लक्स प्रकाश की तीव्रता के संपर्क में थे, उनकी हृदय गति 3 लक्स पर सोने वालों की तुलना में अधिक थी। ऐसा इसलिए क्योंकि सोने के बाद हमारा नर्वस सिस्टम रात में भी एक्टिव रहता है। जो थोड़ा सी आहट या रोशनी मिलने से तीखा हो जाता है। जो लोग रोशनी में सोते हैं उनमें भी इंसुलिन 15% तक बढ़ जाता है। जो लोग कम रोशनी में सोते थे उनमें इंसुलिन में 4 प्रतिशत की कमी देखी गई।

इस पत्ते का 1 चम्मच रस 3 दिन तक पियें, सर्दी-खांसी, बुखार हो जायेंगे दूर

इन बातों का रखें खास ध्यान

नॉर्थवेस्टर्न यूनिवर्सिटी में स्लीप मेडिसिन के अध्यक्ष डॉ. फीलिस जी के अनुसार, अगर हम ऐसी रोशनी में सोते हैं जिससे हम चीजों को आसानी से देख सकें, तो यह शरीर के लिए घातक है। बिना रोशनी या कम रोशनी में सोना शरीर के लिए एकदम सही है।


Note :

किसी भी हेल्थ टिप्स को अपनाने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले. क्योकि आपके शरीर के अनुसार क्या उचित है या कितना उचित है वो आपके डॉक्टर के अलावा कोई बेहतर नहीं जानता


Tags

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)