IPO News: LIC का IPO अडानी विल्मर से भी महंगा, निवेश करें या नहीं?

Admin
0


LIC के IPO की आधिकारिक घोषणा आखिरकार हो गई है। LIC का प्राइस बैंड रु. 910 से 949 तो यह हाल ही में शेयर बाजार में सबसे महंगे मुद्दों में से एक है। कंपनी की कीमत अदानी विल्मर, डिक्सन टेक और आईआरसीटीसी से भी ज्यादा है।

IPO News: LIC का IPO अडानी विल्मर से भी महंगा, निवेश करें या नहीं?


लंबे समय से प्रतीक्षित LIC IPO की आधिकारिक तौर पर घोषणा हो गई है। LIC का प्राइस बैंड रु. 910 से 949 तो यह हाल ही में शेयर बाजार में सबसे महंगे मुद्दों में से एक है। कंपनी ने कहा कि वित्त वर्ष 2021 में उसकी प्रति शेयर आय (ईपीएस) 4.70 रुपये थी। वित्त वर्ष 2020 में यह 4.29 रुपये और 2019 में 4.15 रुपये थी। इस इश्यू की ऊपरी सीमा रु. 949 को देखते हुए इसका मूल्य इसकी कमाई का 202 गुना है।

IPO क्या है ? उसे कैसे पैसा कमा सकते है ? : Click here

यह हाल के सभी IPO का शायद सबसे महंगा मुद्दा है। कंपनी की कीमत अदानी विल्मर, डिक्सन टेक और आईआरसीटीसी से भी ज्यादा है। अगर LIC का IPO सफल होता है तो यह राज्य के स्वामित्व वाली सबसे महंगी कंपनी बन जाएगी।

वर्तमान में सबसे महंगी सरकारी कंपनियां एचएमटी (टीटीएम पीई 176), इंडिया टूरिज्म डेवलपमेंट कॉरपोरेशन (174), आईआरसीटीसी (110), नेशनल फर्टिलाइजर (51), कंटेनर कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (48) और हिंदुस्तान कॉपर हैं। 

प्रतिस्पर्धियों की तुलना में LIC सबसे महंगा होगा। LIC की कीमत आज के सबसे महंगे बीमा शेयरों से दोगुनी है। LIC द्वारा उपलब्ध कराए गए आंकड़ों के मुताबिक, एचडीएफसी लाइफ की कमाई 82 गुना, आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल लाइफ इंश्योरेंस कंपनी 79 गुना और एसबीआई लाइफ इंश्योरेंस कंपनी 78 गुना पर कारोबार करती है। बीमा उद्योग का औसत पीई अनुपात 80 है।

घर की छत्त खाली है तो इस तरह करे लाखों की कमाई : Click here

ज्यादातर विश्लेषकों का मानना ​​है कि LIC के उच्च मूल्यांकन के बावजूद इसमें निवेश किया जाना चाहिए। LIC की बाजार में प्रभावशाली स्थिति है इसलिए उसे प्रीमियम मिलता है। हैम सिक्योरिटीज की आस्था जैन ने कहा कि इश्यू का मौजूदा आकार में 1.1 गुना एम्बेडेड वैल्यू है जो कि उचित मूल्य है।

LIC IPO में निवेश करना चाहिए या नहीं ? 

एक्सिस सिक्योरिटीज के एमडी और सीईओ बी गोपकुमार ने कहा कि निकट भविष्य में बाजार की अस्थिरता LIC के शेयर के प्रदर्शन को प्रभावित कर सकती है लेकिन लंबे समय में हम इस शेयर के लिए फायदेमंद हैं।

हमने काफी लोगों को पूछा सबका यही कहना है इसमें निवेश में कोई जोखम नहीं है. हो सकता है रूस - यूक्रेन युद्ध से कुछ नरमी हो लेकिन अगर आप लम्बे समय के लिए निवेश करना चाहते है तो ये आपको फायदा पंहुचा सकता है. लेकिन IPO Subscribe से पहले अपने वित्तीय सलाहकार की सलाह अवश्य लें। 

LIC IPO की 10 काम की बाते 

1- LIC IPO GMP - ग्रे मार्केट में आईपीओ 25 प्रीमियम के साथ ट्रेड कर रहा था। बुधवार को वह बढ़कर 48 रुपये हो गया है। यानी उम्मीद जताई जा रही है कि LIC आईपीओ 997 रुपये (949 रुपये + 48 रुपये) पर लिस्ट हो सकता है। यानी इश्यू प्राइस से 5% ज्यादा कीमत पर। 

2- LIC IPO प्राइस- भारत सरकार ने एलआईसी आईपीओ का प्राइस बैंड 902 रुपये से 949 रुपये प्रति शेयर तय किया है। 

3- LIC IPO सब्स्क्रिप्शन तारीख - एलआईसी का आईपीओ 4 मई से 9 मई 2022 तक खुला रहेगा।

4- पाॅलिसी होल्डर्स को छूट - जिस किसी के पास एलआईसी की पाॅलिसी है उसे सरकार की तरफ से प्रति शेयर 60 रुपये की छूट मिलेगी। बता दें, इसका लाभ उन पाॅलिसी होल्डर्स को ही मिलेगा जिन्होने 13 अप्रैल 2022 से पहले पाॅलिसी खरीदी होगी।

5- कर्मचारियों को भी छूट- अगर आप एलआईसी के कर्मचारी हैं तो आपको 45 रुपये प्रति शेयर की छूट मिलेगी। 

6- क्या है LIC आईपीओ की साइज - सरकार का लक्ष्य ऑफर फाॅर सेल के तहत 21,008 करोड़ रुपये जुटाने का लक्ष्य है। 

7- क्या है आईपीओ का लाॅट साइज - एलआईसी आईपीओ का लाॅट साइज 15 शेयरों का रखा गया है। 

8- LIC IPO लिमिट- कोई भी निवेशक अधिकतम 14 और कम से कम एक लाॅट के लिए अप्लाई कर सकता है। 

9- कब होगी लिस्टिंग- NSE और BSE में LIC 17 मई 2022 को लिस्ट होगी। 

10 - LIC IPO रजिस्ट्रार- Kfin Technologies लिमिटेड LIC IPO आधिकारिक रजिस्ट्रार होगा। 






Disclaimer : इस लेख का उद्देश्य केवल जानकारी प्रदान करना है। कोई भी निवेश करने से पहले अपने वित्तीय सलाहकार की सलाह अवश्य लें।



Note :

किसी भी हेल्थ टिप्स को अपनाने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले. क्योकि आपके शरीर के अनुसार क्या उचित है या कितना उचित है वो आपके डॉक्टर के अलावा कोई बेहतर नहीं जानता


Tags

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)