About Me

Health Tips : Heart की धमनियाँ Blockage होती है तो मिलते है ऐसे संकेत - जानिए और बचिए

गलत खान-पान और गतिहीन जीवनशैली ने दिल की समस्याओं का खतरा बढ़ा दिया है। पूरे शरीर में रक्त प्रवाह को निरंतर बनाए रखने के लिए, Heart के जहाजों का स्वस्थ होना बहुत जरूरी है। पैर की उंगलियों से सिर तक रक्त प्रवाह को ठीक रखने के लिए रक्त वाहिकाओं को ठीक से काम करना चाहिए। यदि ट्यूब के अंदर किसी प्रकार की गिरावट या रुकावट है, तो यह कई स्वास्थ्य समस्याओं का कारण बन सकता है। इससे Heart रोग का खतरा बढ़ जाता है, यह शरीर के अन्य अंगों को प्रभावित कर सकता है।


यदि शरीर में खराब कोलेस्ट्रॉल का स्तर, धूम्रपान की आदतें, उच्च रक्तचाप, मोटापे की समस्या या गतिहीन जीवन शैली है, तो यह Heart वाहिकाओं को प्रभावित कर सकती है। यदि ऐसी स्थिति उत्पन्न होती है, तो Heart का दौरा, Heart की विफलता और स्ट्रोक की संभावना अधिक होती है। जब Heart अवरुद्ध होता है, तो शरीर कुछ ऐसे संकेत देना शुरू कर देता है जिन्हें नजरअंदाज नहीं किया जाना चाहिए।

1. सीने में दर्द

सीने में दर्द, डक्ट ब्लॉकेज का पहला लक्षण है। रक्त परिसंचरण कम हो जाने पर इस दर्द का अनुभव होता है। आप छाती पर भार महसूस करेंगे। यह दर्द छाती के बीच या बाईं ओर हो सकता है।

यह भी पढ़े : अधिक चाय पीने से आप कैंसर के शिकार हो सकते हैं

2. सांस लेने में कठिनाई

यदि आपके अंगों को उचित रक्त नहीं मिल रहा है, तो उन्हें सांस लेने में कठिनाई हो सकती है। आप थका हुआ और सांस की कमी महसूस करते हैं।

3. कमजोरी और चक्कर आना

जब आपके शरीर को पर्याप्त रक्त नहीं मिलता है तो आप कमजोरी महसूस करते हैं। आप रोजाना काम करके भी थक सकते हैं। कभी-कभी उन्हें चक्कर भी आते हैं।

इसके अलावा, पसीना, मतली, Heart गति में वृद्धि आदि भी Heart के ब्लॉक के लक्षण हो सकते हैं। Heart का दौरा तब पड़ सकता है जब ब्लॉकेज ट्यूब में चरमोत्कर्ष तक पहुँच जाता है। इसके अलावा, बाएं हाथ या कंधे में दर्द जैसे लक्षण एक नली ब्लॉक का संकेत हो सकते हैं।

यह भी पढ़े : इस Diet Plan से एक सप्ताह में 4.5 किलोग्राम तक वजन कम कर सकते है

बचने के लिए क्या किया जा सकता है?

आप जीवनशैली में सुधार करके नली को ब्लॉक होने से रोक सकते हैं। ऐसा करने से Heart रोग की संभावना कम हो सकती है।

  • दिन में कम से कम 30 मिनट व्यायाम करें, पूरे दिन सक्रिय रहें।

  • खान-पान में जरूरी बदलाव करें। खाने में जितना हो सके ताजे फल और सब्जियां खाएं। उच्च वसा वाले भोजन और प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थों से बचें।

  • अगर आपको धूम्रपान की आदत है, तो जितनी जल्दी हो सके छोड़ दें। अगर आपको इस आदत को हमेशा के लिए छोड़ने की जरूरत है, तो किसी की मदद लें।

यह भी पढ़े : Jio Gigafiber कनेक्शन ले रहे हो? तो जानिए ये बेहद खास बाते

  • अगर वजन बहुत ज्यादा है, तो वजन कम करने की कोशिश करें।

  • ब्लड प्रेशर, कोलेस्ट्रॉल, ब्लड शुगर को नियंत्रित करने की कोशिश करें।

  • तनाव कम करने की कोशिश करें।

नोट : यह लेख सामान्य जानकारी पर आधारित है। इसे डॉक्टर की राय नहीं माना जा सकता है। अधिक जानकारी के लिए किसी विशेषज्ञ डॉक्टर से संपर्क करें।

आपको हमारा ये पोस्ट कैसा लगा. अगर अच्छा लगा हो तो Please शेर जरूर करे ताकि दुसरो को भी ये जानकारी मिले। कोई और जानकारी चाहिए तो हमें कमेंट करके बताए।

Post a Comment

0 Comments