इंसान के कान को भी अपना घर बनाने वाली खतरनाक मकड़ियां - देखे वीडियो

Admin
0


कान भी मानव शरीर के सबसे संवेदनशील अंगों में से एक है। अगर कोई छोटी-सी चीज भी कान के अंदर चली जाए तो इससे न सिर्फ दर्द होता है बल्कि काफी परेशानी भी होती है। ऐसे कई मामले सामने आए हैं जब रात को सोते समय कोई कीड़ा कान में चला जाता है।

कान को भी अपना घर बनाने वाली खतरनाक मकड़ियां



लेकिन, क्या होगा अगर कोई अजीब मकड़ी कान में घुस जाए और कान को अपना घर बना ले? आइए, हम आपको बताते हैं इन अजीब-गरीब मकड़ियों के बारे में। एक साथ सीखें कि कैसे मकड़ियों या कान में किसी भी कीड़े से छुटकारा पाएं।

पूरे भारत की गुजराती समाज लिस्ट PDF डाउनलोड करे यहाँ

कूदती मकड़ी

नेशनल ज्योग्राफिक के अनुसार, दुनिया भर में मकड़ियों की 45,000 से अधिक प्रजातियां पाई जाती हैं। इसमें एक कूदने वाली मकड़ी भी शामिल है। हालांकि, यह मकड़ी घर में दिखने वाली आम मकड़ी से अलग होती है, क्योंकि यह कोई जाला नहीं बनाती है और कुछ दूरी तक कूद कर एक बार में ही अपने शिकार को खा सकती है। इसलिए इसे जंपिंग स्पाइडर कहा जाता है। यह आकार में 2 से 22 मिमी जितना बड़ा हो सकता है। इसके शरीर पर घने बाल होते हैं, जो इसे अन्य मकड़ियों से अलग बनाता है।

रात में छिप जाता है

वे दिन में अधिक सक्रिय होते हैं और रात में वे अंधेरी जगह में रहना पसंद करते हैं। जैसे किसी पत्थर, पत्ते या छाल के नीचे। वहीं, कभी-कभी वे अंधेरे स्थानों की तलाश में मानव शरीर के करीब आ जाते हैं और कान के अंदर घुस सकते हैं। हम ऐसा इसलिए कह रहे हैं क्योंकि ऐसा मामला सिर्फ भारत में ही देखने को मिला है।

यह मामला एक साल पुराना यानी 2020 का है। भारत के बैंगलोर में हेब्बल की रहने वाली 49 वर्षीय लक्ष्मी ने कान में तकलीफ का अनुभव किया और फिर सिरदर्द हुआ। दर्द इतना तेज था कि उन्हें अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा।

डॉक्टर ने कान की जांच की और पाया कि कान में एक छोटी सी अजीब सी मकड़ी है। जैसे ही प्रकाश कान के अंदर गया, मकड़ी धीरे-धीरे बाहर आने लगी। इस बीच यह भी डर था कि कहीं वह पीछे मुड़कर कान में गहराई तक न चला जाए। लेकिन, वह मकड़ी अपने आप निकल आई। यदि मकड़ी कान में गहराई तक चली जाती है, तो इसे निकालना मुश्किल हो सकता है और कान की अन्य समस्याएं हो सकती हैं।

कितनी खतरनाक है जंपिंग स्पाइडर

हेल्थलाइन वेबसाइट के मुताबिक जंपिंग स्पाइडर इंसानों के लिए खतरनाक नहीं है। इसके काटने के बाद भी इंसानों को कोई खतरा नहीं है। लेकिन, अगर किसी व्यक्ति को इसके जहर से एलर्जी है तो यह मकड़ी कई गंभीर समस्याएं पैदा कर सकती है। यह मकड़ी डरने पर ही काटती है।

कैसे पता करें कि कोई मकड़ी या अन्य कीट कान में प्रवेश कर गया है?

यदि कोई व्यक्ति रात में जमीन पर सोता है, तो उसके कान के कीड़ा या कूदने वाली मकड़ी जैसी मकड़ी के अंदर जाने का खतरा अधिक होता है। यदि जगह के बाद कान में भारीपन हो, कान के अंदर से खुजली की आवाज हो, असहज महसूस हो, कान में दर्द हो या कोई तरल पदार्थ बाहर निकल रहा हो, ये सभी कान के अंदर कीड़े या मकड़ी के लक्षण हो सकते हैं।

गलती से भी न करें ये काम

कान के अंदर कीड़े या मकड़ियों से छुटकारा पाने के लिए कान के अंदर कान की कलियां, माचिस या कुछ और न डालें, क्योंकि इससे कान की मकड़ी या कीड़ा और अंदर जा सकती है।

खराब इयरफोन के है हजारो उपयोग - जाने यहाँ उपयोग के बारे में

क्या करें

अगर आपको लगता है कि अभी-अभी कोई मकड़ी या कीट कान में घुसा है, तो पहले शांत हो जाएं और बैठ जाएं और जितना हो सके अपनी गर्दन को जमीन की तरफ झुकाएं। अब उंगलियों की मदद से कान को थोड़ा खींचे और सिर को धीरे-धीरे हिलाएं। ऐसा करने से कीड़ों से छुटकारा मिल सकता है। यदि प्रयास विफल हो जाता है, तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।


Note :

किसी भी हेल्थ टिप्स को अपनाने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले. क्योकि आपके शरीर के अनुसार क्या उचित है या कितना उचित है वो आपके डॉक्टर के अलावा कोई बेहतर नहीं जानता


Tags

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)