Shaheen Cyclone Live Update Tracker

Admin
0


शाहीन तूफान गुजरात में कल सक्रिय होने की संभावना है, जिससे कच्छ और सौराष्ट्र में भारी से बहुत भारी बारिश होने की संभावना है।

Shaheen Cyclone Live Update Tracker



गुजरात में भारी बारिश के पूर्वानुमान के बाद पोरबंदर में सिस्टम बदल गया है। सिग्नल नंबर तीन को पोरबंदर के तट पर तैनात कर दिया गया है।

राज्य में बारिश को लेकर बड़ी खबर
तूफान के बाद राज्य में भारी बारिश का अनुमान
तूफान शाहीन कल दोपहर कच्छ की खाड़ी से टकराएगा

आपके वाहन का चालान कटा है या नहीं? केवल 1 मिनट में ऑनलाइन चेक करे

सौराष्ट्र और कच्छ में कल तेज हवाओं के साथ बारिश

गुजरात में गुलाब तूफान के प्रभाव से सितंबर के अंतिम सप्ताह में पूरे राज्य में भारी बारिश हुई है। सौराष्ट्र से दक्षिण गुजरात तक जहां बारिश हो रही है, वहीं अब गुजरात में तूफान का खतरा मंडरा रहा है। अगले चार दिनों तक राज्य में भारी से बहुत भारी बारिश का अनुमान है।

कच्छ में कल दोपहर 1 बजे आएगा तूफान शाहीन

कल कच्छ की खाड़ी में तूफान आने की प्रबल संभावना है। तूफान के कल दोपहर करीब 1 बजे नलिया समुद्र में दस्तक देने की संभावना है और समुद्र तटों पर भारी से बहुत भारी बारिश होगी। कच्छ समेत पूरे सौराष्ट्र में कल भारी बारिश होने की संभावना है।

द्वारका, जामनगर, गिर सोमनाथ, जूनागढ़ तट पर हवा के साथ बारिश

तूफान कच्छ के समुद्र में 60 से 80 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने की आशंका है। ऐसी हवाओं और बारिश से सौराष्ट्र और कच्छ में भारी नुकसान की आशंका है।

मौसम विभाग ने मछुआरों को समुद्र में न जाने का दिया निर्देश

कच्छ के साथ, द्वारका, जामनगर, गिर सोमनाथ और जूनागढ़ के तटीय क्षेत्रों में भी भारी से बहुत तेज हवाओं के साथ बारिश गिरेगी। सौराष्ट्र के तटीय इलाकों में 40 से 80 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने के साथ तूफान शाहीन का असर महसूस किया जाएगा। मछुआरों को समुद्र में न जाने के सख्त निर्देश दिए गए हैं क्योंकि खतरा शुक्रवार दोपहर से शुरू होने की आशंका है।

तेज हवाओं के साथ बारिश का पूर्वानुमान के बाद लगाया सिग्नल

सौराष्ट्र और कच्छ में अब भारी से बहुत भारी बारिश का अनुमान है कि कल तक गुजरात में तूफान के सक्रिय होने की संभावना है। ऐसे में समुद्र भी ऐसे समय में तूफानी हो रहा है जब बारिश की भविष्यवाणी के चलते पोरबंदर के बंदरगाह पर नंबर तीन का सिग्नल लगा दिया गया है। इतना ही नहीं मछुआरों को जल्द से जल्द नजदीकी बंदरगाह पर पहुंचने और समुद्र में न जाने की हिदायत भी दी गई है।

अब आप WhatsApp से भी Vaccine Certificate Download कर सकते हैं - जानें आसान तरीका

सिग्नल नंबर 3 कब लागू किया जाता है?

सिग्नल नंबर 3 यह इंगित करने के लिए दिया जाता है कि अत्यधिक मौसम और तेज हवाओं के कारण समुद्र में तूफान आने पर बंदरगाह खतरे में है और समुद्र में लहरों की संभावना है। इस संकेत का उपयोग बंदरगाह पर यह इंगित करने के लिए किया जाता है कि स्थानीय चेतावनी सतह हवा के कारण बंदरगाह खतरे में है।

अगर आपको पता करना है कहा कहा तूफान गुजरेगा तो Play बटन पर क्लिक करे 👇👇👇


Note : अगर आपने Play बटन किया है तो. 2-3 Min. बाद पेज Refresh जरूर करे

Official Website / Source Cyclone Tracker : https://www.windy.com/


Note :

किसी भी हेल्थ टिप्स को अपनाने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले. क्योकि आपके शरीर के अनुसार क्या उचित है या कितना उचित है वो आपके डॉक्टर के अलावा कोई बेहतर नहीं जानता


Tags

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)