Android यूजर्स के लिए बुरी खबर, इन Apps को तुरंत करें डिलीट, नहीं तो होगा बड़ा नुकसान

Admin
0
अगर आप Android यूजर हैं तो आपके लिए यह बुरी खबर है। जान ले।

10 करोड़ Android यूजर्स का डाटा लीक हो गया है। वजह यह है कि 2 दर्जन से ज्यादा App ऐसे हैं जिन्हें Android यूजर्स ने डाउनलोड किया है। चेकपॉइंट रिसर्च ने उन Apps की लिस्ट जारी की है जो यूजर्स का पर्सनल डेटा लीक करते हैं। इसमें स्मार्ट फोन और टैबलेट शामिल हैं। इन Android Apps से जुड़े लाखों उपयोगकर्ताओं का व्यक्तिगत डेटा रीयल टाइम डेटाबेस पर उपलब्ध है। अगर आपने इन Apps को पहले ही डाउनलोड कर लिया है तो इन्हें तुरंत डिलीट कर दें।

इन Apps को तुरंत करें डिलीट, नहीं तो होगा बड़ा नुकसान


इस 10 Password का इस्तेमाल ना करें सेकेंडों में हो जाता है हैक

कौन से Apps डेटा चुराते हैं?

रिपोर्ट के मुताबिक, इनमें से कुछ कमजोर Application ज्योतिष, फैक्स, टैक्सी सेवाओं और स्क्रीन रिकॉर्डिंग में माहिर हैं। शोधकर्ताओं ने इस लिस्ट में तीन Apps की ओर इशारा किया है। 50,000 से अधिक डाउनलोड के साथ Taxi Hiling App, Astro Guru App, T'Leva और Logo Maker उपयोगकर्ताओं के व्यक्तिगत डेटा को लीक कर रहे हैं। रिपोर्ट के मुताबिक, इन Apps में कई कमियां हैं जो यूजर्स के पर्सनल डेटा को खतरे में डालती हैं। इनमें ईमेल, पासवर्ड, नाम, जन्मतिथि, लिंग की जानकारी, निजी चैट, डिवाइस की लोकेशन, यूजर आइडेंटिफायर और अन्य मामले शामिल हैं।

ये Apps ऐसे चुराते है आपका डेटा

इन सभी Apps में रियल टाइम डेटाबेस होता है। जो हर यूजर का डाटा स्टोर करता है। चेकपॉइंट रिसर्च के अनुसार रीयल-टाइम डेटाबेस App डेवलपर्स को क्लाउड में डेटा स्टोर करने की अनुमति देता है, और यह भी सुनिश्चित करता है कि वे रीयल टाइम में सभी कनेक्टेड क्लाइंट से जुड़े रहें। उन्होंने कहा कि कई बार कुछ डेवलपर्स डेटाबेस की सुरक्षा को नजरअंदाज कर देते हैं जिससे गड़बड़ी होती है। यह गलत कॉन्फ़िगरेशन पूरे डेटाबेस पर चोरी, सेवा स्वाइप और रैंसमवेयर हमलों की अनुमति देता है। इस सूची में बड़ी संख्या में लोकप्रिय Apps शामिल हैं। इससे बड़े पैमाने पर हमले की आशंका जताई जा रही है।

हर जानकारी सिर्फ एक रिक्वेस्ट पर प्राप्त की जा सकती है

तथ्य यह है कि ये सभी App रीयल टाइम डेटाबेस हैं, चैट मैसेज के आदान-प्रदान की संभावना और हैकिंग के जोखिम को बढ़ाते हैं। शोधकर्ता अपनी चैट के साथ T'Leva App के ड्राइवरों और यात्रियों का पूरा नाम, फोन नंबर और स्थान प्राप्त करने में सक्षम थे। उसे बस इतना करना था कि डेटाबेस को एक रिक्वेस्ट भेजें। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि सुरक्षा के लिहाज से App कितना कमजोर है। इसके अलावा कुछ और Apps की हालत और भी खराब थी। क्योंकि रीड और राइट दोनों को अनुमति थी। हैकर्स को आसान पहुंच प्राप्त करने की अनुमति देना। अगर आप भी इस तरह के App का इस्तेमाल कर रहे हैं तो उसे तुरंत डिलीट कर दें।

इन 6 वेबसाइट से सावधान  हो सकती जीवनभर की कमाई साफ़ 

ऐसे करें Apps को डिलीट

इन Apps की खामियों ने हैकर्स को पुश नोटिफिकेशन मैनेजर तक पहुंच भी दी है। हैकर्स यूजर्स से डेवलपर्स को आसानी से नोटिफिकेशन भेज सकते हैं। ऐसे में अगर यूजर्स को इन Applications के जरिए नोटिफिकेशन मिलता है तो वे अंदाजा नहीं लगा पाएंगे कि इन हैकर्स ने भेजा है और इसे खोल देंगे। ऐसे में हैकर्स यूजर्स के साथ ऐसे लिंक शेयर कर सकते हैं, जिससे उन्हें काफी नुकसान हो सकता है। चेकप्वाइंट अनुसंधान से कई तरीकों का पता चलता है जिससे इन अनुप्रयोगों के माध्यम से उपयोगकर्ताओं का डेटा चोरी किया जा सकता है। उस स्थिति में, इन Apps को जल्दी से हटाना और उन्हें दोबारा डाउनलोड नहीं करना सबसे अच्छा है।

Note :

किसी भी हेल्थ टिप्स को अपनाने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले. क्योकि आपके शरीर के अनुसार क्या उचित है या कितना उचित है वो आपके डॉक्टर के अलावा कोई बेहतर नहीं जानता


Tags

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)