इस शहर में बंद हो सकता है पान मावा - कही आपका शहर तो नहीं पढ़िए यहाँ

Admin
0
Lockdown के चौथे चरण में, गुजरात राज्य सरकार ने गैर-सामग्री क्षेत्र में दुकानों, कार्यालयों, व्यवसायों और उद्योगों को शुरू करने की स्वीकृति दी है। सैलून और पान मावा की दुकानों को राज्य में Lockdown के तीन चरणों के दौरान प्रतिबंधित कर दिया गया था। चौथे चरण में, सैलून और पान मावा की दुकान खोलने के लिए रियायतें दी गई हैं।

उस समय, सूरत महानगर निगम ने पान मावा की दुकान के कारण Corona से संक्रमित लोगों को यह भी निर्देश दिया है कि लोगों को निगम द्वारा जारी दिशानिर्देश का सख्ती से पालन करना होगा। यदि लोग इसका पालन नहीं करते हैं, तो पान की दुकानों और नाई की दुकानों को दी जाने वाली रियायतों पर पुनर्विचार किया जाएगा।

क्या आप मास्क पहनकर दौड़ने जाते हो? तो रहें सावधान


रिपोर्ट के अनुसार, जब सूरत में राज्य सरकार द्वारा स्वीकृत से पान मसाला की दुकानें खुली हैं, तो सूरत के वराछा जोन-ए में कमला पार्क सोसाइटी के निवासी शैलेश नाम के एक व्यक्ति की Corona रिपोर्ट सकारात्मक आई है। जब स्वास्थ्य विभाग ने शैलेश नाम के एक व्यक्ति के इतिहास की जांच की, तो उन्हें पता चला कि वह हर दिन अपने घर के पास एक पान की दुकान पर जाता था और पान की दुकान के माध्यम से संक्रमित होता था।



इस संबंध में, सूरत नगर निगम ने लोगों से पान की दुकान और नाई की दुकान में सामाजिक दूरी का पालन करने के लिए कहा है। लोगों से अपील की गई है कि वे पानी की दुकानों से पान मावा खाकर कहीं भी थूक न दें अन्यथा अन्य लोग भी संक्रमित हो सकते हैं। जिससे आने वाले दिनों में पान की दुकाने और नाई की दुकान वाले सुपर स्प्रेडर बन सकते हैं। इसे ध्यान में रखते हुए, शहर के सभी पान की दुकान के मालिक पान टेक अवे बेच सकेंगे।

सूरत नगर निगम ने चेतावनी दी कि पान की दुकानों और नाई की दुकानों में सामाजिक दूरी का पालन किया जाना चाहिए। सूरत नगर निगम द्वारा जारी दिशानिर्देशों का कड़ाई से पालन करना होगा, अन्यथा पान की दुकानों और नाई की दुकानों को दी जाने वाली रियायतों पर पुनर्विचार किया जाएगा।

आ गया Tik Tok का बाप !  Mitron ऐप्प क्या है ? पूरी जानकारी


Advertisement



Note :

किसी भी हेल्थ टिप्स को अपनाने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले. क्योकि आपके शरीर के अनुसार क्या उचित है या कितना उचित है वो आपके डॉक्टर के अलावा कोई बेहतर नहीं जानता


Tags

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)