Gujarat News : सूरत की किशोरी अहमदाबाद में 70 हजार में बिकी ! गुजरात कितना सुरक्षित

Admin
0
सूरत की किशोरी अहमदाबाद में 70 हजार में बिकी


गुजरात के बच्चों के खरीद बेच नेटवर्क का खुलासा हुआ। अहमदाबाद के एक व्यक्ति ने कथित तौर पर एक किशोरी को खरीदा है, जो सूरत से है और एक किशोरी कुछ समय पहले सूरत से गायब थी। पूरी घटना ने पुलिस को जाल बिछाकर मानव तस्करी के एक छोर को समाप्त कर दिया है और पुलिस अभी भी इस दिशा में और पूछताछ कर रही है।

  • गुजरात में बच्चों के खरीद फ़िरोत नेटवर्क को सामने आया
  • सूरत की किशोरी अहमदाबाद में 70 हजार में बिकी
  • सूरत पुलिस ने अहमदाबाद के एक व्यक्ति को पकड़ लिया

गुजरात के बच्चों के शॉपिंग नेटवर्क का पर्दाफाश हुआ है। सूरत की किशोरी को अहमदाबाद में 70 हजार में बेचा गया है। सूरत पुलिस ने अहमदाबाद के एक व्यक्ति का भंडाफोड़ किया है।


अहमदाबाद के हरीश सोलंकी ने एक बच्ची खरीदी। हरीश ने कलोल की एक महिला से एक बच्ची खरीदी। सूरत सचिन ने कुछ समय पहले बच्ची लापता हो गयी थी। राज्य में बच्चों के लिए एक अत्याधुनिक खरीद फ़िरोत का रैकेट खुला लगता है। सूरत पुलिस ने आरोपियों की त्वरित जांच की है।

कितने बच्चे गायब हो जाते है ? Child missing in gujarat


गुजरात में 2018 के अनुसार, पिछले दो वर्षों में 4800 बच्चे गायब थे। जिनमें से 1150 बच्चे अभी भी लापता हैं। केंद्र सरकार की NCRB - ​​नेशनल क्राइम रजिस्ट्रेशन ब्यूरो ने घोषणा की है कि 2156 लापता होने के साथ प्रमुख शहरों में अधिक बच्चे गायब हैं। अहमदाबाद की बात करें तो अहमदाबाद में 1241 बच्चे गायब थे, जिनमें से 310 लापता हैं। वडोदरा में 322 बच्चे लापता हुए, जिनमें से 45 लापता हैं। राजकोट में 223 लापता थे, जिनमें से 45 लापता हैं। गांधीनगर में 223 लापता थे, जिनमें से 47 लापता हैं।

News Alert  बच्चों को अकेले मत छोड़ो


Note :

किसी भी हेल्थ टिप्स को अपनाने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले. क्योकि आपके शरीर के अनुसार क्या उचित है या कितना उचित है वो आपके डॉक्टर के अलावा कोई बेहतर नहीं जानता


Tags

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)