Monday, July 30, 2018

लाइफ में आप अगर सिंगल नहीं रहना चाहते तो न करें ये काम


कुछ लोग हमेशा अपने अकेलेपन का दुखड़ा रोते रहते हैं और उनमें से ज्यादातर को इसके पीछे की असल वजह का ही पता नहीं होता। हालांकि अगर हम कुछ बातों का खयाल रखें तो सिंगल से मिंगल होने के चांस बढ़ जाते हैं।  कुछ लोग हमेशा अपने अकेलेपन का दुखड़ा रोते रहते हैं।

लाइफ में आप अगर सिंगल नहीं रहना चाहते तो न करें ये काम


और ज्यादातर लोगों को इसके पीछे की असल वजह ही पता नहीं होती। हालांकि अगर हम कुछ बातों का खयाल रखें तो सिंगल से मिंगल होने के चांस बढ़ जाते हैं। इसके लिए आपको कुछ ज्यादा करने की जरूरत नहीं होती, बल्कि कई लिहाज से आपको कुछ काम कम करने की सलाह दी जाती है। तो जानिये आखिर कैसे आप दूर कर सकती हैं अपना अकेलापन।


क्या डे क्रीम और नाइट क्रीम,अलग अलग होती हैं क्या सच में है इसका कोई फायदा होता है

क्या है अकेलेपन का कारण

अपनी इच्छाओं पर ध्यान देना कम करें  हम सब इंसान हैं और हमारी कुछ इच्छायें होना भी स्वाभाविक है। और यह जरूरी तो नहीं कि हमारी हर बात पूरी तरह सही हो। हमारी हर इच्छा तर्क संगत हो। और हर इच्छा हमारे लिए फायदेमंद हो, ऐसा भी जरूरी नहीं। लेकिन एक बात है कि हमें उन बातों से खुशी मिलती है। या कम से कम हमें ऐसा होने का अहसास तो होता है। सिर्फ और सिर्फ अपने फायदे के बारे में सोचने का एक नुकसान यह भी है कि हम इसकी अनंत सीमाओं में कहीं खो जाते हैं।

अपनी इच्छाओं पर ध्यान देना कम करें 

सिर्फ प्रतिक्रिया देने के लिए न सुनें लोग किसी बात को केवल सुनने के लिए नहीं सुनते। वे इसलिए सुनते हैं कि उन्हें उस पर जवाब देना है। हम किसी बात को सुनकर उस पर विचार नहीं करते, हमारा पूरा ध्यान उसका जवाब तैयार करने पर होता है। एक बात का ध्यान रखें कि जरूरी नहीं कि सामने वाले व्यक्ति को हमेशा आपकी सलाह की जरूरत हो। कुछ बातें बस यूं ही की जाती हैं। और उन पर केवल उतना ही ध्यान दिया जाना चाहिये। कई बार लोगों की चाहत होती है कि वे किसी को बैठाकर उससे अपने दिल की बातें कर सकें। लोग सिर्फ अपना मन हल्का करना चाहते हैं। उन्हें न तो किसी की सलाह की जरूरत होती है और न ही वे किसी निर्णयात्मक बात की अपेक्षा कर रहे होते हैं। अगर आप वाकई किसी के साथ वक्त बिताना चाहते हैं, तो उसके दिल की बातों को सुनिये। जानिये कि वह क्या चाहता है।


मैं नहीं हम के बारे में सोचें

सिर्फ अपने बारे में सोचना बंद करें। यह मत सोचिये कि आप पूरी दुनिया में सबसे महत्वपूर्ण हैं, अब आप दो हैं। और आप दोनों की जिंदगी अब साझा है। प्यार के साथ एक खूबसूरत बात यह है कि आप एक नहीं दो जिंदगियां जीते हैं। जब आप किसी रिश्ते में होते हैं तो एक दूसरे की भावनाओं को अच्छी तरह समझते हैं। आप दिल की गहराइयों से एक दूसरे से जुड़े होते हैं। इससे आप भावनात्मक रूप से उस व्यक्ति से उस सीमा तक जुड़े होते हैं जिस सीमा तक आप किसी और से नहीं जुड़े होते।

प्रेम का तो अर्थ ही है कि आप दोनों एकसार हो जाते हैं। जिस्मानी तौर पर आप भले ही एक दूसरे से अलग हों, लेकिन आपके मन आपस में जुड़े होते हैं। आपको यह जानने और समझने की जरूरत होती है कि अब आपकी जिंदगी किसी दूसरे के साथ जुड़ी हुई है।


स्वार्थी होना छोड़े

पता नहीं किन कारणों से लेकिन ज्यादातर लोगों को लगता है कि रिलेशनशिप में होने के बावजूद उन्हें खुद में कोई बदलाव करने की जरूरत नहीं है। वे रिलेशनशिप में किसी भी तरह का समझौता करने को तैयार नहीं होते। उन्हें लगता है कि ऐसा करना उनकी शान में गुस्ताखी होगी।

आपको अपने रिश्ते को लेकर अधिक विचारवान होने की जरूरत है। आपको अपने साथी की जरूरतों को अपनी निजी आवश्यकताओं से आगे रखना चाहिये। प्रेम त्याग का दूसरा नाम है। अगर आपको अपनी ओर से कुछ छोड़ना भी पड़े तो आपको उसके लिए तैयार रहना चाहिये। आपका मकसद अपने साथी को खुश करना की होना चाहिये। किसी प्रेम संबंध में आपको स्वार्थ का त्याग करना ही पड़ता है। और आपको देने की कला सीखनी चाहिये।


हर बात पर शिकाय

जीवन में आपको हमेशा अपनी पसंद की चीज मिले यह तो हो नहीं सकता। कोई भी ऐसे व्यक्ति के साथ रिलेशनशिप में नहीं रहना चाहता जो हर बात में बस शिकायत ही करता रहे। जो अपनी ओर से तो कुछ न करे, लेकिन बाकी हर चीज से उसे परेशानी हो। आपके साथ जो इनसान रिलेशनशिप में है वह इन बेकार की बातों को सुनने के लिए नहीं है। वह आपसे आपके दिल की बातें सुनना चाहता है। वह आपको अपने दिल की बातें कहना चाहता है। वह आपके साथ खुशगवार लम्हें गुजारना चाहता है। उसे सकारात्मकता चाहिये न कि हर बात पर रोने वाला कोई ऐसा इनसान जो किसी बात पर खुश ही न होता होऍ

सिर्फ तलाश से काम बनने वाला नही

बेहतर साथी की आपकी तलाश कभी खत्म नहीं हो सकती। और अगर आप लगातार इस जुगत में लगे हैं तो यकीन जानिये आप अकेले ही रहने वाले हैं। तलाश या किसी के पीछे जाना रोमांचक तो हो सकता है, लेकिन इसका कोई अंत भी होना चाहिये। इस सफर की कोई मंजिल होना जरूरी है। सिर्फ तलाश ही आपका मकसद नहीं होना चाहिये। तलाश के इस भ्रम में फंसना बेहद आसान है और कई बार आप इसमें इतनी बुरी तरह फंस जाते हैं कि आपको कोई रास्ता ही नजर नहीं आता।


यह सोचना छोड़ें कि आप हमेशा अकेले रहने वाले हैं

'मैं किसी के साथ के खुश नहीं रह सकता।' यह सोच ही वास्तव में आपके अकेलेपन का कारण हो सकती है। हर किसी के जीवन में ऐसे मुकाम आते हैं जब हम कहीं अटके से रह जाते हैं। और अपने जीवन की  गाड़ी को वहीं रोक कर रखना सही नहीं। और अगर आप यह सोचते हैं तो यकीन जानिये कि आप अकेले ही रहने वाले हैं।

हो सकता है कि यह सोचना थोड़ अजीब लगे, लेकिन आपको यह विश्वास रखना होगा कि कहीं न कहीं, कोई न कोई आपके लिए जरूर बना है। और आपको वह कोई जरूर मिलेगा। और इस बात पर यकीन रखकर ही आप अपने जीवन को आगे बढ़ा सकते हैं।

आपको  यह जानकरी कैसा लगाछा लगे तो  जरूर शेयर करे हर रोज अच्छी जानकरी  जुड़े रहे

यह पोस्ट भी पढ़े

प्‍यार में पड़ने से पहले जरूर जानले ये 5 सवाल, कभी नहीं बिगड़ेगी बात

लड़की को प्रोपोज़ करने के 8 सर्वश्रेष्ठ तरीके

दुल्हन शादी में करें ऐसे मेकअप दिखेगी बहोत खूबसूरत 












लाइफ में आप अगर सिंगल नहीं रहना चाहते तो न करें ये काम Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Info reporter

0 comments: