Tuesday, May 1, 2018

आप नहीं जानते होंगे | गुजरात के बारे में दिलचस्प तथ्य


गुजरात के बारे में तथ्य - आपके लिए अद्भुत तथ्य


 

गुजरात के बारे में

गुजरात या कहा जाए “महापुरूषों की धरती“ देश के पश्चिमी भाग का सबसे महत्वपूर्ण राज्य है। विशाल अरब सागर इसकी भूगोलीय सीमा है और पश्चिम में पाकिस्तान का सिंध प्रांत स्थित है, उत्तर में राजस्थान, दक्षिण में महाराष्ट्र राज्य, दमन, दीव और दादरा जैसे केन्दª शासित प्रदेश और पूर्व में मध्य प्रदेश है और गुजरात इन सबके बीच अपने अद्भुत लैंडस्केप के कारण अनूठा लगता है। गुजरात की राजधानी गांधीनगर है और अहमदाबाद यहां का सबसे मुख्य शहर है।

गुजरात का क्षेत्रफल लगभग 196,024 वर्ग किलोमीटर है और 2011 की जनगणना के अनुसार राज्य की कुल जनसंख्या 60,383,628 है। महात्मा गांधी और वल्लभभाई पटेल जैसे भारत के कई प्रसिद्ध व्यक्तियों की जन्मभूमि होने के कारण इस जगह की सांस्कृतिक और पारंपरिक विरासत बहुत समृद्ध है और ये राज्य का गौरव बढ़ाती है। यहां की गर्मियाँ बहुत गर्म और कठोर और सर्दियाँ हल्की और सुहानी होती हैं। मानसून अक्सर राज्य के दक्षिणी भाग में बरसता है और उत्तर पश्चिमी हिस्सा सालभर सूखा ही रहता है। गुजरात शिक्षा संबंधी पर्यटन के लिए अनुकूल है क्योंकि यहां भारतीय संस्कृति की विभिन्न विशेषताओं के बारे में बहुत कुछ सीखा जा सकता है। गुजरात की सरकार बहुत सक्रिय है और यहां 182 विधानसभा क्षेत्र हैं। पहले गुजरात बम्बई राज्य (जो आज महाराष्ट्र और गुजरात है) के तहत आता था और 1960 में यह अलग राज्य बना।

गुजरात का इतिहास

गुजरात के इतिहास को प्राचीन, मध्यकालीन और आधुनिक उपवर्गों में बाँटा जा सकता है। प्राचीन इतिहास को सिंधु घाटी सभ्यता से जोड़ा जा सकता है। गुजरात में सबसे पहले गुज्जर आकर बसे, जो कि पाकिस्तान और अफगानिस्तान से थे। इसके बाद मौर्य वंश आया जिसके राजा चन्द्रगुप्त मौर्य और उनके पौत्र राजा अशोक ने इस क्षेत्र में अपना वर्चस्व स्थापित किया। उनकी मौत के बाद कई राजवंश आए जैसे साका, शुंगा, मैत्रका, चैरा, सौलंकी और बघिलाह आदि जिन्होंने गुजरात पर राज किया और फिर मुसलमानों ने यहां हमला कर लगभग 400 सालों तक राज किया। महमूद गजनी से लेकर अलाउद्दीन खिलजी और राजा अकबर तक सभी ने अपने पराक्रम से गुजरात को जीता लेकिन फिर इन मुस्लिम राजाओं को मराठा राजा शिवाजी ने सत्ता से बाहर कर दिया। सत्रहवीं सदी में अंग्रेजों के आने से मराठा शक्ति थोड़ा दबाव में आई और राज्य कई रियासतों में बँट गया जैसे अहमदाबाद, भरूच, पंचमहल, कैरा और सूरत जिस पर अंग्रेजों ने राज किया। आजादी की लड़ाई के दौरान गुजरात उन स्वतंत्रता सैनानियों का केन्द्र बन गया जो वहां जन्में थे। आजादी के बाद गुजरात बम्बई राज्य का हिस्सा बन गया जिस पर भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने शासन किया। 1960 में बम्बई राज्य को महाराष्ट्र और गुजरात में बाँटा गया और उन्हें अलग राज्यों का दर्जा मिला।

भूगोल और जलवायु

भारतीय प्रायदीप के पश्चिमी तट पर स्थित होने के कारण इस राज्य में देश का तीसरा सबसे लंबा समुद्री किनारा है जो कि 1300 किमी लंबा है। भौगोलिक तौर पर राज्य के तीन मुख्य उपविभाजन हैः उत्तर पूर्व में बंजर और पथरीला कच्छ, जिसमें कच्छ का प्रसिद्ध रण या रेगिस्तान शामिल है और छोटे-छोटे पहाड़ों से बना पहाड़ी क्षेत्र सौराष्ट्र या काठियावाड़। मुख्य भूमि कच्छ से शुरू होकर दमनगंगा नदी तक है जो कि कछारी मिट्टी से भरी है। गुजरात से साबरमती, नर्मदा, तापी और दमनगंगा नदियाँ गुजरती हैं। राज्य के उत्तरी और पूर्वी भाग की सीमा अरावली, सतपुड़ा, विंध्य और सहयाद्री पर्वतों से घिरी है। राज्य का एक बड़ा हिस्सा गिर, डांग और पंचमहल जैसे जंगलों से ढंका है। इन जंगलों में नम और सूखे दोनों तरह के वनस्पति मिलते हैं। उनमें से खासकर कच्छ के पास के इलाकों में कांटेदार हैं। गुजरात के दक्षिणी भाग की आबोहवा नम और उत्तरी हिस्से कि शुष्क है। राज्य में बारिश का सालाना औसत 33 से 152 सेमी है जबकि डांग में लगभग 190 सेमी बारिश दर्ज होती है। गुजरात के कर्क रेखा पर स्थित होने के कारण उत्पन्न कठिन जलवायु को खंभात की खाड़ी और अरब सागर सहज कर देते हैं।

पर्यटन

गुजरात को “पश्चिम का जेवर“ भी कहते हैं और यहां कई प्रकार के संग्रहालय, किले, अभयारण्य, मंदिर और कई रूचिकर जगहें हैं जो पर्यटकों के लिए दावत से कम नहीं हैं। इस जगह का गहरा ऐतिहासिक पहलू है इस कारण यहां कई खास जगहें है जो देखने लायक हैं, जैसे हृदय कुंज, महात्मा गांधी का निवास स्थान, लोथल या सिंधु घाटी सभ्यता के अवशेष, कीर्ति मंदिर या महात्मा गांधी का जन्मस्थान, बड़नगर का प्रसिद्ध हटकेश्वर मंदिर और धौलावरिया आदि। पर्यटकों को कई धार्मिक स्थान भी अच्छे लगते हैं, जैसे द्वारका, पावागढ़, शामलजी, पालिताना पवर्त और गिरनार पर्वत स्थित जैन मंदिर। वास्तुकला और पुरातत्व स्मारकों में रूचि रखने वाले लोग अहमदाबाद, डबलोई, पाटन, मोधेरा आदि के अद्भुत स्मारक भी देखने जाते हैं। पर्यटक सतपुड़ा की पहाड़ी के साथ-साथ कोरवार्ड, तीथल और मांडवी के समुद्री किनारों पर भी जाना पसंद करते हैं। इसके अलावा गिर शेर अभयारण्य और कच्छ अभयारण्य प्रकृति प्रेमियों की पसंदीदा जगह है। इनके अलावा कई किले जैसे उपरकोट किला, नज़र बाग महल, धबोई किला आदि और संग्रहालय, जैसे गांधी स्मारक संग्रहालय, गांधी संग्रहालय, बड़ौदा संग्रहालय और पिक्चर गैलेरी भी हर साल हजारों पर्यटक देखते हैं।



गुजरात के जिले

जिला कोड जिला नाम मुख्यालय क्षेत्रफल
AH अहमदाबाद अहमदाबाद ८,७०७
AMअमरेलीअमरेली६,७६०
ANआणंदआणंद२,९४२
BKबनासकांठापालनपुर१२,७०३
BRभरुचभरुच६,५२४
BVभावनगरभावनगर११,१५५
DAदाहोददाहोद३,६५२
DGडांगआहवा१७६४
GAगांधीनगरगांधीनगर६४९
JAजामनगरजामनगर१४,१२५
JUजूनागढजूनागढ८८३९
KAकच्छभुज ४५,६५२
KHखेड़ानड़ियाद४,२१५
MAमहेसाणामहेसाणा४,३८६
NRनर्मदाराजपीपळा२,७४९
NVनवसारीनवसारी२,२११
PAपाटणपाटण५,७६८
PMपंचमहालगोधरा५,२१९
POपोरबंदरपोरबंदर२,२९४
RAराजकोटराजकोट११,२०३
SKसाबरकांठाहिंमतनगर७,३९०
SNसुरेन्द्रनगरसुरेन्द्रनगर१०,४८९
STसुरतसुरत७,६५७
TAतापीव्यारा३,०४०
VDवड़ोदरावड़ोदरा७,७९४
VLवलसाडवलसाड३,०३४
DDदेवभूमि द्वारकाद्वारका-
GSगीर सोमनाथवेरावल-
MRमोरबीमोरबी-
BTबोटादबोटाद-
ARअरवल्लीमोड़ासा-
MSमहीसागरलुणावाड़ा-
CUछोटा उदेपुरछोटा उदेपुर-

पर्यटन स्‍थल 

राज्‍य में द्वारका, सोमनाथ, पालीताना, पावागढ़, अंबाजी भद्रेश्‍वर, शामलाजी, तरंगा और गिरनार जैसे धार्मिक स्‍थलों के अलावा महात्‍मा गांधी की जन्‍मभूमि पोरबंदर तथा पुरातत्‍व और वास्‍तुकला की दृष्टि से उल्‍लेखनीय पाटन, सिद्धपुर, घुरनली, दभेई, बडनगर, मोधेरा, लोथल और अहमदाबाद जैसे स्‍थान भी हैं। अहमदपुर मांडवी, चारबाड़ उभारत और तीथल के सुंदर समुद्री तट, सतपुड़ा पर्वतीय स्‍थल, गिर वनों के शेरों का अभयारण्‍य और कच्‍छ में जंगली गधों का अभयारण्‍य भी पर्यटकों के आकर्षण का केद्र हैं। इसके अलावा गुजरात के स्थानीय व्यंजन के जायके भी गुजरात की खूबसूरती को और बढ़ाते है।

1. भूमि जहां भगवान कृष्ण रहते थे
2. महात्मा गांधी की भूमि!
3. एक वेगन राज्य!
4. सबसे लंबी तटरेखा!
5. धनी प्रवासी
6. दुनिया का सबसे बड़ा नमक रेगिस्तान यहाँ है!
7. भारत का सबसे बड़ा जिला यहाँ है!     
8. एशिया में सबसे ग्रीन कैपिटल सिटी गुजरात में है!
9. भारत के सुरक्षित राज्य में से एक!
10 व्यापार अनुकूल राज्य!
11. सोमनाथ मंदिर 12 ज्योतिर्लिंगों में से 1 है
12. पेट्रो उत्पादन की अक्ष
13. एशिया में सबसे बड़ा वैन नेटवर्क
14. एशिया में सर्वश्रेष्ठ मैनेजमेंट संस्था!
15. अमीर लोगों का राज्य!
16. दुनिया की 27 वीं सबसे बोली जाने वाली मूल भाषा
17. सबसे लंबे ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क
18. सूरत भारत में सबसे अमीर शहर है
      - वार्षिक आय के आधार पर, सूरत को भारत का सबसे अमीर शहर माना जाता है।


19. एशिया का सबसे बड़ा दूध डेयरी यहाँ है!   
      - अमूल डेयरी एशिया में सबसे बड़ी दूध डेरी  है 
20. पटेल surname न्यू जर्सी टेलीफोन अनुक्रमणिका में पृष्ठों की कई पेज तक चलता है।
21. चीनी का सबसे बड़ा उपभोक्ता 
22. गुजरात में अमेरिका में 17,000 से अधिक होटल और मोटल हैं, जिसमें एक मिलियन कमरे यू.एस. अर्थव्यवस्था लॉज के 50 प्रतिशत से अधिक का प्रतिनिधित्व करते हैं।
23. ग्रह पर सबसे बड़ी तेल रिफाइनरी!  
24. दुनिया का सबसे बड़ा जहाज तोड़ने वाला यार्ड शहर यहाँ है! 
25. कपास हब
26. सूरत में दुनिया के हीरे का सबसे जायदा हिस्सा है
27. Non-alcoholic राज्य  
28. सबसे ज्यादा जैन मंदिरों वाला राज्य है.  
29. क्या आप इस तथ्य को जानते थे कि गुजरात में भारत के किसी भी अन्य राज्य की तुलना में शाकाहारी लोगों की संख्या सबसे अधिक है?
30. दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा डेनिम निर्माता अहमदाबाद के अरविंद मिल्स है।  
       

आप नहीं जानते होंगे | गुजरात के बारे में दिलचस्प तथ्य Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Reporter 17

0 comments: