रोज काम में आने वाले ये चीजें हो जाएंगे बंद - जानिए चीज़ो के बारे में

Admin
0
कुछ चीजें जो हमारे दैनिक जीवन में बहुत आम हो गई हैं, उन पर प्रतिबंध लगने वाला है। यदि आप यह जानकारी नहीं जानते हैं तो समस्याएँ उत्पन्न हो सकती हैं।

रोज काम में आने वाले ये चीजें हो जाएंगे बंद


कुछ चीजें हमारे जीवन का इतना महत्वपूर्ण हिस्सा बनती जा रही हैं कि भले ही हम जानते हों कि वे लंबे समय में हमारे लिए बहुत हानिकारक हैं, हम उन्हें छोड़ नहीं सकते।

आपके वाहन का चालान कटा है या नहीं? केवल 1 मिनट में ऑनलाइन चेक करे

लेकिन कई चीजें ऐसी भी होती हैं जो न सिर्फ हमारे स्वास्थ्य के लिए बल्कि हमारे आसपास के समाज और देश के लिए भी हानिकारक होती हैं। अंत में, किसी बिंदु पर, सरकार को ऐसे कदम उठाने के लिए मजबूर किया जाता है जो इन वस्तुओं के उपयोग को स्वचालित रूप से कम या बंद कर देता है।

इतनी चीज़े हो जाएगी बंध
व्यवसाय शुरू करने से पहले जानना आवश्यक है
रोजमर्रा की जिंदगी में उपयोगी चीजें भी बंद हो जाएंगी

आज हम कुछ ऐसी ही चीजों के बारे में बात करने जा रहे हैं जिनका हम स्टेप बाय स्टेप इस्तेमाल करते हैं लेकिन वे हानिकारक हैं। सरकार अब कुछ ऐसी चीजों पर रोक लगाने जा रही है। तो आइए जानें ऐसी सभी बातों के बारे में सरल भाषा में।

Plastic (प्लास्टिक)

Plastic (प्लास्टिक) हमारे दैनिक जीवन में इतना आम हो गया है कि हमें हर घंटे लगभग एक बार इसका इस्तेमाल करना पड़ता है। लंबे समय तक Plastic में रखी किसी चीज का कुछ नहीं होता। Plastic को आसानी से इस्तेमाल किया जा सकता है ताकि उसमें रखी चीजें भी खराब न हों। लेकिन Plastic हमारे पर्यावरण के लिए बहुत हानिकारक है। तो अब सरकार ने ऐलान किया है कि 2022 तक Single Use Plastic को देश से हटा दिया जाएगा।

इस तारीख को नोट कर लें, यह काम लगेगी

30 सितंबर, 2021 - Plastic Bag की मोटाई 50 से 75 माइक्रोन की जाए ताकि उसका दोबारा इस्तेमाल किया जा सके और बोरियों के फटने या उड़ने की संभावना कम हो। (1 मिमी = 1000 माइक्रोन)
1 जुलाई, 2022 - ऐसी वस्तुओं के निर्माण, आयात, बिक्री या वितरण पर प्रतिबंध रहेगा।

1) कानों की सफाई के लिए ईयर बड्स यानी कान साफ ​​करने वाले Plastic की दांडी पर प्रतिबंध
2) Plastic की दांडी वाले गुब्बारों पर प्रतिबंध
3) Plastic के झंडों पर प्रतिबंध
4) लॉलीपॉप, चॉकलेट या कैंडी आदि में इस्तेमाल होने वाले Plastic की दांडी पर प्रतिबंध
5) थर्मोकोल पर भी बैन (पॉलीस्टाइरीन)
6) Plastic के चम्मच, कप, प्लेट, गिलास, कांटा चम्मच, ट्रे, प्लास्टिक बैनर, कैंडी बॉक्स या सिगरेट बॉक्स आदि पर पतले Plastic पर प्रतिबंध

Aadhaar Card फोटो पसंद नहीं है? इस सरल प्रक्रिया से बदलें

31 दिसंबर 2022

Plastic बैग की मोटाई 75 से बढ़ाकर 120 माइक्रोन की जाएगी।

बाय बैक क्या है?

Plastic के कचरा प्रबंधन के लिए सरकार ने व्यवस्था की है। अब Plastic कंपनियों को इसे रीसायकल करने की व्यवस्था करनी होगी और सरकार को इसका समर्थन करना होगा। इसके लिए उन्हें प्रोडक्ट के तहत बाय बैक के बारे में कुछ जानकारी देनी होगी यानी आप उसी सामान को कैसे वापस कर सकते हैं यानी कंपनी कितना Plastic कचरा लेती है। तो आप इसे फिर से बेच सकते हैं और कंपनी इसे फिर से रीसायकल कर सकती है।

आशा है आपको यह जानकारी बहुत उपयोगी लगी होगी। यदि आप किसी चीज का उत्पादन या व्यापार करने की योजना बना रहे हैं तो आपको यह जानकारी उपयोगी लगेगी।

Note :

किसी भी हेल्थ टिप्स को अपनाने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले. क्योकि आपके शरीर के अनुसार क्या उचित है या कितना उचित है वो आपके डॉक्टर के अलावा कोई बेहतर नहीं जानता


Tags

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)