Raktanchal Web Series Review In Hindi: Kranti Prakash Jha, Nikitan Dheer In 2020

Admin
0


Raktanchal (रक्तांचल) Web Series Review And Rating



Reporter17 Raktanchal Web Series Review And Rating


Raktanchal Web Series Rating By Reporter17: 4/5

Raktanchal Web Series Rating By Times Of India: 3.5/5

Raktanchal Web Series Rating By IMDb: 6.5/10

Raktanchal Web Series Rating By Webseriesreviews: 4/5

Raktanchal Web Series Rating By Glamsham: 2.5/5

औसत रेटिंग: 3.5/5

स्टार कास्ट: क्रांति प्रकाश झा, निकितन धीर, रोन्जिनी चक्रवर्ती, विक्रम कोचर, कृष्णा बिष्ट, रवि खानविलकर

निर्देशक: रितम श्रीवास्तव

मूवी का प्रकार: एक्शन, क्राइम

भाषा: हिन्दी

बागी 3 मूवी रिव्यु हिंदी में पढ़ने के लिए यहाँ Click करें


अब रियल स्टोरी बेस्ड क्राइम बेस्ड थ्रिलर सीरीज को काफी पसंद किया जा रहा है। मिर्जापुर ’, सेक्रेड गेम्स’, 'अपहरण ’और' पाताललोक’ जैसी प्रसिद्ध वेब श्रृंखलाओं के बाद, एक बार फिर मुफ्त स्ट्रीमिंग ओटीटी प्लेटफार्म एमएक्स प्लेयर ने अपनी मूल वेब श्रृंखला रक्थांचल ’का पहला सीजन दर्शकों के लिए लाया है। कहानी गैंग वॉर, माफिया राज और वर्चस्व पर आधारित है जो 80 के दशक के मध्य में उत्तर प्रदेश में पनपा था।

Raktanchal Web Series कहानी

'रक्तांचल' की कहानी 1984 की है जब गैंगस्टर वसीम खान (निकितन धीर) ने विजय सिंह (क्रांति प्रकाश झा) के पिता की हत्या कर दी थी, जो एक गैंगस्टर गाँव से एक सीधा और सरल आईएएस बनना चाहता था। जिसके बाद विजय सिंह ने अपने पिता की हत्या का बदला लेने के लिए अपनी पढ़ाई और अपराध की दुनिया में कदम रखा। समय के साथ, विजय सिंह की ताकत इतनी बढ़ गई कि वह वसीम खान के प्रभुत्व के साथ सीधे संघर्ष में लग गए। इन दोनों के गैंगवार से पूर्वांचल में खून की नदियां बहती दिख रही हैं। जिसकी कहानी है 'रक्तांचल'

यह कहना कोई अतिशयोक्ति नहीं है कि बॉलीवुड में अनुराग कश्यप की गैंग्स ऑफ वासेपुर ने दर्शकों को अपराध ड्रामा फिल्मों और श्रृंखला का ऐसा स्वाद दिया है कि एक के बाद एक ऐसी श्रृंखलाएं दर्शकों के सामने आ रही हैं। 'रक्तांचल' के पहले एपिसोड की कहानी आपको गुदगुदाती रहेगी। क्रांति प्रकाश झा वेब श्रृंखला में नायक विजय सिंह की भूमिका में डाली गई है। , एमएस धोनी: द अनटोल्ड स्टोरी ’, 'बाटला हाउस’ और स्वामी रामदेव - एक संघर्ष ’जैसी फिल्मों के बाद क्रांति प्रकाश ने अपने अभिनय और संवाद अदायगी से रक्तांचल’ में शानदार काम किया है। खलनायक वसीम खान की भूमिका में निकितन धीर खतरनाक लग सकते हैं लेकिन उन्हें अपनी अभिव्यक्ति और संवाद वितरण पर काम करने की जरूरत है।

Raktanchal Web Series समीक्षा

इन दोनों की मुख्य भूमिकाओं के अलावा, विक्रम कोचर भ्रष्ट राजनेता पुजारी सिंह की भूमिका में रवि खनविलकर के किरदार में और वसीम खान के गुंडा संकी के किरदार में बहुत मजबूत लग रहे हैं। रोन्जिनी चक्रवर्ती की भूमिका सीमा और कृष्णा बिष्ट का किरदार कट्टा बहुत देर से आया लेकिन अपनी छाप छोड़ गया। प्रमोद पाठक त्रिपुरारी के चरित्र में अच्छी तरह से शामिल हैं। राजनेता साहेब सिंह के चरित्र को और उत्कृष्ट बनाया जा सकता था। हालांकि, इस भूमिका में, दया शंकर पांडे जैसे उत्कृष्ट अभिनेता ने ठीक से काम नहीं किया है।

रिज़वान मूवी रिव्यु हिंदी में पढ़ने के लिए यहाँ Click करें


'रक्तांचल' की कहानी रजत, सर्वेश उपाध्याय और शशांक राही ने लिखी है। निर्देशक रितम श्रीवास्तव ने 80 के दशक के मध्य का माहौल बनाया है, जो दर्शकों को 'रक्तांचल' में आकर्षित करता है। इसमें उत्तर प्रदेश में 80 के दशक के उत्तरार्ध में हिंदू-मुस्लिम और राम मंदिर की राजनीति भी शामिल है। रक्तांचल’ की कहानी अच्छी है लेकिन इसके संवाद थोड़े कमजोर हैं। जो दर्शकों पर एक सीमित प्रभाव छोड़ने का प्रबंधन करता है। कहानी में विजय सिंह की प्रेम कहानी को बेहतर तरीके से दिखाया जा सकता था। रक्तांचल’ में दोनों गीत कहानी की गति को तोड़ते हैं।

ऐसे मोड़ पर पूरे सीजन की कहानी पूरी हो चुकी है। ताकि दर्शक दूसरे सीजन का इंतजार कर सकें। अगर आप क्रांति प्रकाश ज़ानी की बेहतरीन एक्टिंग देखना चाहते हैं और अगर आप क्राइम, थ्रिलर, ड्रामा सीरीज़ के शौकीन हैं, तो इस सीरीज़ को मिस न करें। इस सीरीज को हमारी तरफ से 4 स्टार।


Note :

किसी भी हेल्थ टिप्स को अपनाने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले. क्योकि आपके शरीर के अनुसार क्या उचित है या कितना उचित है वो आपके डॉक्टर के अलावा कोई बेहतर नहीं जानता


Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)