कोरोना का खतरा: सूरत में लोग बैठने की बेंच को क्यों कर रहे हे उल्टा ? जाने ये है फायदे

Admin
0


कुछ सूरत जागृति नागरिकों के इस विचारों की प्रशंसा की गई, जबकि दूसरी ओर, पुलिस ने लोगों को बिना काम रास्ते पर निकलने के लिए पुलिस डंडे मार रही है।


भारत सरकार ने कोरोना वायरस से बचने के लिए पुरे देश को लोक डाउन / तालाबंदी की घोषणा की है। सिस्टम लॉकडाउन को सख्ती से लागू करने के लिए प्रशाशन कड़ी मेहनत कर रहा है। सूरत में लोगों को कई जगहों पर तालाबंदी का समर्थन करते हुए देखा गया, जबकि कुछ जगहों पर लोग पुलिस से भिड़ गए। पुलिस ने ऐसे लोगों से जुर्माना वसूलना शुरू कर दिया है।


खासकर उन इलाकों में जहां पुलिस आसानी से नहीं पहुंच पाती है, लोग इकट्ठा होते हैं गप्पे लगाते हैं। प्रत्येक क्षेत्र में जो पार्षदों या निगमों द्वारा Society या apartment में बेंच दिए जाते है। इस लोखड़ौन के समय में काफी लोग घर से बाहर निकलके इस बेंच पर बैठकर एकठा होते है. और गप्पे लगाते है. इस से निपटने के लिए कुछ जागृत  नागरिकों ने अपने आसपास या अपनी सोसाइटी में रखे गए बेंच को उल्टा कर दिया  इस समय में लोग अधिक से अधिक समय घर पर बिताये और इस कोरोना की महामारी को फैला ने से बचाया जा सके. 


दूसरी ओर, कई क्षेत्रों में लोग बिना काम के निकल रहे हैं। पुलिस ऐसे लोगों को पकड़ पकड़ कर उन्हें उठक बैठक करा रही है।

कई जगहों पर ऐसी घटनाएं भी होती हैं जहां लोग पुराने मेडिकल हिस्ट्री बिल या रिपोर्ट लेकर पुलिस से बचने के लिए बाहर जा रहे हैं। ऐसा करके लोग पुलिस छूट का दुरुपयोग कर रहे हैं।

Coronavirus News : आपका कौन सा Blood ग्रुप है ? इस ग्रुप के लोग कोरोना से अधिक मर रहे है


हालांकि, ऐसे लोगों को पुलिस पकड़ भी रही है और उन पर ड्राइविंग लाइसेंस नहीं होने या हेलमेट पहनने पर जुर्माना लगाया जा रहा है। लॉकडाउन के साथ भी, लोग इसके लिए बहाना बना रहे हैं, जो वास्तव में निंदनीय है।

क्या इस समय में लोगों को बिना काम बाहर निकलना बंद करना चाहिए ?



Note :

किसी भी हेल्थ टिप्स को अपनाने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले. क्योकि आपके शरीर के अनुसार क्या उचित है या कितना उचित है वो आपके डॉक्टर के अलावा कोई बेहतर नहीं जानता


Tags

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)