अभिनेत्री ने 15 साल की उम्र में 8 मिनट लंबा एडल्ट सीन दिया, टिकट बिक गए लाखो रुपए मैं

80 के दशक की बॉलीवुड अभिनेत्री पद्मिनी कोल्हापुरे का 54 वां जन्मदिन है। पद्मिनी कोल्हापुर ने एक बाल कलाकार के रूप में अपना करियर शुरू किया। मुख्य अभिनेत्री के रूप में पद्मिनी की पहली फिल्म इंसाफ का तराजू थी। उस समय उसकी सुंदरता के सभी लोग दिवाने थे। 15 साल की उम्र में, फिल्मफेयर ने इंसाफ का तराजू फिल्म में सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री का पुरस्कार जीता। फिर पद्मिनी की टॉप हीरोइन की गिनती होने लगी।


कोई भी रोल करने में दिक्कत नहीं थी

लेकिन एक अच्छी इमेज को इसने खुद ही खराब कर दिया और यहां तक ​​कि एक एडल्ट हेरोइन की इमेज बनादी उसका कारण था फिल्मों में बोल्ड और विवादित दृश्यों देना। उस समय, बोल्ड सीन बहुत बड़ी बात थी, लेकिन पद्मिनी ने किसी भी तरह की भूमिका को बुरा नहीं माना। 1980 में फिल्म दीप गहराई की रिलीज के बाद, नायिका ठीक विवादों में रही है। इसके अलावा फिल्म इंसाफ का तराजू में उनका एक एडल्ट दृश्य था। यह एक लंबा रैप सीन था। इस दृश्य को देख ने के लिए लोगो ने  लाखों टिकट ख़रीदे।

छवि पर पानी फिर गया 

पद्मिनी के अलावा, इस फ़िल्म में ज़ीनत अमान और राज बब्बर भी हैं। पद्मिनी ने फिल्म में नाबालिग लड़की का किरदार निभाया और रैप सीन को लगभग 7-8 मिनट तक शूट किया और इससे काफी विवाद हुआ और उसकी साफ सुथरी अच्छी इमेज पर पानी फिर गया। हालांकि, दोनों फिल्में हिट रहीं। लेकिन लोगों ने पद्मिनी कोल्हापुर के बारे में अपनी धारणा बदल दी । अभी यह था कि अभिनय की नायिका के लिए पागल हो रहे लोगों ने उसे एडल्ट स्टार की उपाधि देना शुरू कर दिया था। गौरतलब है कि पद्मिनी के संबंध में श्रद्धा कपूर आंटी हैं


Subscribe to receive free email updates:

0 Response to "अभिनेत्री ने 15 साल की उम्र में 8 मिनट लंबा एडल्ट सीन दिया, टिकट बिक गए लाखो रुपए मैं"

Post a Comment